दैनिक भास्कर हिंदी: युवती को बात करने के बहाने बुलाया और मुंह दबाकर ऑटो में खींच ले गया

September 3rd, 2019

डिजिटल डेस्क,शहडोल। मार्केट एरिया से दिनदहाड़े दो युवकों ने एक युवती के अपहरण का प्रयास किया। आरोपियों ने युवती को हाथ पकड़कर खींचा और मुंह दबाकर ऑटो में ले जाने लगे। युवती के चिल्लाने की आवाज सुनकर कुछ लोगों ने ऑटो का पीछा किया और करीब एक किमी दूर ही आरोपियों को दबोच लिया। आरोपियों की पहचान पुरानी बस्ती निवासी इरफान और मो. इरफान के रूप में की गई है।

घटना सोमवार सुबह करीब 11 बजे की है। बताया जाता है कि पुराने गांधी चौक स्थित एक रेडीमेड कपड़ों की दुकान में घरौला मोहल्ला में रहने वाली 21 वर्षीय युवती काम करती है। सुबह वह दुकान पहुंची तो ताला नहीं खुला था। पास में ही वह इंतजार करने लगी। तभी दोनों आरोपी ऑटो से पहुंचे। इरफान ने युवती को बुलाया और नजदीक आते ही हाथ से उसका मुंह दबाकर जबरन ऑटो में बैठा लिया। इस बीच मो. इरफान ने ऑटो तेजी से आगे बढ़ाई। मौका पाकर युवती ने उसके हाथ को काट लिया और शोर मचाया। युवती के चिल्लाने की आवाज सुनकर लोगों को शक हुआ और वे ऑटो का पीछा करने लगे। करीब एक किमी दूर अंडरब्रिज से ठीक पहले लोगों ने ऑटो को रोक लिया। सूचना पर तत्काल कोतवाली थाने से पुलिस बल भी पहुंच गया और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

किराए पर लेकर आए थे बगैर नम्बर का ऑटो

आरोपियों के खिलाफ धारा 375, 51, 356, 506 व 232भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। वैधानिक कार्रवाई पूर्ण कर आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेजा जाएगा। जिस ऑटो से युवती के अपहरण का प्रयास किया गया, उसमें नंबर नहीं लिखा है। आरोपी ने बताया कि ऑटो किराए से लेकर आया था। इधर, घटना के बाद युवती काफी घबराई हुई थी। उसे समझ ही नहीं आ रहा था कि क्या करे। उसने अपने साथ काम करने वाले एक सहयोगी को बुलाया। थाने में पहुंचने के बाद पुलिस ने उसे समझाया बाद में उसके परिजनों को बुलाया गया। दोपहर करीब एक बजे प्रकरण दर्ज हुआ।

पुराने रिकॉर्ड भी खंगाल रही पुलिस

कोतवाली थाना प्रभारी रावेंद्र द्विवेदी ने बताया कि आरोपियों के पुराने रिकॉर्ड का भी पता चला है। मो. इरफान को पहले भी एक युवती को भगाने के प्रयास में बुढ़ार रोड में पकड़ा गया था। इसी तरह इरफान के भी पुराने मामलों का पता लगाया जा रहा है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि युवती को इरफान पहले से जानता था। वह अक्सर कपड़ा दुकान के बाहर खड़ा रहता था। युवती भी उसको पहचानती थी, लेकिन उससे बात नहीं करती थी। दोनों को मंगलवार को कोर्ट में पेश कर ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा जाएगा।