दैनिक भास्कर हिंदी: एक तीर से दो निशाने, राणे ने उद्धव और राज ठाकरे को बताया मराठा आरक्षण विरोधी

July 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने कहा है कि शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे और मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे नहीं चाहते कि मराठा समाज को आरक्षण मिले। एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में राणे ने कहा कि उद्धव-राज मराठा आरक्षण के विरोधी हैं, इसलिए वे आर्थिक आधार पर आरक्षण दिए जाने की मांग कर रहे हैं। 

राणे ने कहा कि शिवसेना-मनसे को मराठा कार्यकर्ता चलेंगे पर उनके लिए आरक्षण हजम नहीं होता। उन्होंने सवाल किया कि मराठा आरक्षण की मांग के वक्त ही ये दोनों आर्थिक आधार पर आरक्षण का राग क्यों अलापने लगे? राणे ने कहा कि तीन महीने के भीतर मराठा समाज को आरक्षण मिल सकता है। इसके लिए केंद्र सरकार की अनुमति अथवा संविधान संशोधन की जरूरत नहीं है।

तीन महीने में मिल सकता है मराठा समाज को आरक्षण 
राज्य सरकार अपने अधिकार से आरक्षण दे सकती है। तमिलनाडू ने ऐसा करके दिखाया है। राणे ने कहा कि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट कुछ भी हो राज्य सरकार आरक्षण देने को लेकर फैसला ले सकती है।