comScore

यूनिवर्सिटी के कुलसचिव के लिए जनवरी में होगा इंटरव्यू, फार्म की पड़ताल जारी

यूनिवर्सिटी के कुलसचिव के लिए जनवरी में होगा इंटरव्यू, फार्म की पड़ताल जारी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने कुलसचिव पद पर नियुक्ति के लिए जनवरी में साक्षात्कार प्रक्रिया आयोजित की है। यूनिवर्सिटी  को कुलसचिव पद के लिए करीब 20 उम्मीदवारों के आवेदन मिले हैं। फिलहाल यूनिवर्सिटी  में आवेदनों की पड़ताल जारी है। 

क्या है मामला
उल्लेखनीय है कि  12 सितंबर से यह नियुक्ति प्रक्रिया शुरू हुई है। बता दें कि इस पद पर नियुक्ति के लिए एक वर्ष से खींचतान जारी है। डॉ. पूरणचंद्र मेश्राम के पद से सेवानिवृत्त होने के बाद जब यूनिवर्सिटी  ने नियुक्ति प्रक्रिया चलाई, तो प्रभारी कुलसचिव डॉ. नीरज खटी का ही पूर्णकालिक नियुक्ति के लिए चयन किया गया।  लेकिन तकनीकी कारणों का हवाला देकर उन्हें नियुक्ति नहीं दी गई। उस वक्त चर्चा ने जोर पकड़ा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस शिक्षण मंच के डॉ. संजय दुधे को पद पर बिठाना चाहते थे, इसलिए जानबूझ कर डॉ. खटी को नियुक्त नहीं किया गया। विवि ने 12 सितंबर से नए सिरे से नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की। जिसमें डॉ. दुधे के अलावा करीब 20 उम्मीदवार है। अब विवि में चर्चा है कि राज्य मंे सत्ता परिवर्तन के बाद कुलसचिव पद की पसंद भी बदल सकती है।

इसलिए डॉ. खटी को नियमित नहीं किया गया
7 सितंबर के साक्षात्कार के प्रभारी कुलसचिव डॉ. नीरज खटी का ही नाम नियमित नियुक्ति के लिए चुना गया था, लेकिन मामले में पेंच तब फंसा जब डॉ. खटी पदभार स्वीकार नहीं कर सके। ऐसा इसलिए क्योंकि, लक्ष्मीनारायण इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में प्रोफेसर पद पर नियुक्त हुए हैं, इस समय वे प्रोबेशन पीरियड में हैं। उन्हें कुलसचिव पद का भार नहीं दिया जा सकता। हालांकि, चयन के बाद डॉ. खटी ने लीन और वेतनश्रेणी के लिए विवि में आवेदन किया, लेकिन उनकी विनती स्वीकार करने योग्य नहीं होने से उनकी अर्जी खारिज हो गई। अंतत: विवि के पास कुलसचिव पद के लिए नए सिरे से नियुक्ति करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं रह गया, लेकिन नई नियुक्ति होने तक डॉ. खटी के पास कुलसचिव पद का प्रभार बना है।

कमेंट करें
KCwG6