दैनिक भास्कर हिंदी:  छात्राओं के हॉस्टल में रात में घुसा अज्ञात, मोबाइल लेकर भागा - सुरक्षा पर सवाल

June 14th, 2019

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। शासकीय कॉलेजों के गर्ल्स हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं की सुरक्षा को लेकर भारी लापरवाही बरती जा रही है। पीजी कॉलेज के गर्ल्स हॉस्टल में पिछले दिनों रात में एक अज्ञात व्यक्ति अंदर पहुंच गया और एक छात्रा का मोबाइल चुराकर भाग गया। वहीं गर्ल्स कॉलेज के हॉस्टल में आवासीय शिविर लगाने एवं उसमें पुरुषों को प्रवेश दिए जाने को लेकर भारी विरोध हो रहा है। धरम टेकरी स्थित पीजी कॉलेज के गर्ल्स हॉस्टल में दस जून की रात कोई अज्ञात व्यक्ति घुस गया और एक छात्रा का मोबाइल लेकर फरार हो गया। घटना के वक्त कॉलेज के अधिकांश सीसीटीवी कैमरे बंद रहे। खास बात यह है कि पीजी कॉलेज के गर्ल्स हॉस्टल से एसपी ऑफिस की दूरी महज पांच सौ मीटर है। छात्राओं का कहना है कि हॉस्टल परिसर के आसपास अक्सर असामाजिक तत्वों का जमघट लगा रहता है। कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि एजेंसी के माध्यम से हॉस्टल में सुरक्षा व्यवस्था के लिए गनमैन रखा गया है। घटना के वक्त ड्यूटी पर तैनात रहे गनमैन को संबंधित एजेंसी ने निकाल दिया है।

अधिकांश सीसीटीवी कैमरे रहे बंद

पीजी कॉलेज का गर्ल्स हॉस्टल सौ सीटर है। अवकाश के चलते फिलहाल यहां पर लगभग बीस छात्राएं रुकी हुई हैं। सुरक्षा व्यवस्था के लिए हॉस्टल में 16 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। जिस दिन घटना हुई तब महज तीन कैमरे ही काम कर रहे थे।  घटना के बाद कॉलेज प्रबंधन ने सीसीटीवी कैमरे सुधरवाने की सुध ली। 

हॉस्टल में लाइट-पंखे भी बंद

हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं की सुविधा को लेकर कॉलेज प्रबंधन कितना गंभीर है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हॉस्टल में कई पंखे एवं लाइट भी बंद हैं। अब जाकर प्रबंधन ने संबंधित एजेंसियों से सर्वे कराकर इनके सुधार की प्रक्रिया प्रारंभ की है। 

अब तक नहीं कराई एफआईआर

गर्ल्स हॉस्टल में अज्ञात व्यक्ति के घुसने और मोबाइल चुराकर ले जाने की घटना दस जून की रात हुई थी। गुरुवार तक इस घटना की एफआईआर नहीं कराई थी। 

इनका कहना है

गर्ल्स हॉस्टल में अज्ञात व्यक्ति द्वारा पहुंचकर मोबाइल चुराकर ले जाने के मामले की जांच करा रहे हैं। यहां पर सिक्योरिटी के लिए एजेंसी के माध्यम से गनमैन तैनात रहते हैं। पुलिस अधीक्षक से भी यहां की सुरक्षा के लिए चर्चा करेंगे।  -डॉ. गोपाल जायसवाल, प्राचार्य, पीजी कॉलेज

खबरें और भी हैं...