मजिस्टेट कोर्ट: अगली सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं हुई तो रनौत के खिलाफ जारी होगा वारंट

September 14th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महानगर की अंधेरी मजिस्टेट कोर्ट ने गीतकार जावेद अख्तर की आपराधिरक मानहानि से जुड़ी शिकायत पर सुनवाई  के दौरान कहा है कि यदि फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत अगली सुनवाई के वक्त कोर्ट में हाजिर नहीं हुई तो उनके खिलाफ वारंट जारी किया जाएगा। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 20 सितंबर 2021 को रखी है। इससे पहले कोर्ट ने रनौत को एक दिन के लिए अदालत में उपस्थिति से छूट प्रदान कर दी। 

रनौत की ओर से पैरवी कर रहे वकील ने मजिस्टेट आरआर खान के सामने कहा कि मेरी मुवक्किल की सेहत ठीक नहीं है। इसलिए उन्हें एक दिन यानी मंगलवार को अदालत में उपस्थिति से छूट दी जाए। सुनवाई के दौरान मजिस्टेट खान के सामने वकील की ओर से रनौत की मेडिकल रिपोर्ट भी पेश की गई। उन्होंने कहा कि मेरी मुवक्किल फिल्म के प्रमोशन के लिए यहां-वहां यात्राएं कर रही है। जिसके चलते उनमें कोरोना के लक्षण विकसित हो गए है। वहीं अख्तर के वकील ने इसे मामले की सुनवाई से भागने व देरी करने की तरकीब बताया। अख्तर के वकील ने कहा कि जब से रनौत के खिलाफ  कोर्ट में हाजिर होने के लिए समन जारी किया गया है तब से वे कोई न कोई कारण बताकर कोर्ट के सामने उपस्थित होने से बच रही है। 

मामले से जुड़े दोनों पक्षों को सुनने के बाद मजिस्टेट खान ने रनौन की ओर से एक दिन कोर्ट में उपस्थिति से छूट दिए जाने के आवेदन को स्वीकार कर लिया। और मामले की सुनवाई 20 सितंबर 2021 तक के लिए स्थगित कर दी। मजिस्टेट खान ने कहा कि यदि अगली सुनवाई के दौरान रनौत हाजिर नहीं हुई तो उनके खिलाफ वारंट जारी किया जाएगा। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह बांबे हाईकोर्ट ने इस मामले को रद्द किए जाने की मांग को लेकर रनौत की ओर से दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया था। 

 

खबरें और भी हैं...