comScore

लाठियों से पीटकर महिला की हत्या - चार साल पहले हो गई पति की मौत, रिश्तेदारों पर ही हत्या का संदेह

लाठियों से पीटकर महिला की हत्या - चार साल पहले हो गई पति की मौत, रिश्तेदारों पर ही हत्या का संदेह

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। अमरवाड़ा थाना क्षेत्र में आमाकोल के जंगल में सोमवार की सुबह एक महिला की लाश मिलने से हड़कंप मच गया। महिला की हत्या लाठियों से पीटकर किये जाने की आशंका जताई जा रही है। महिला का शव जंगल के करीब ही एक खेत के पास पड़ा हुआ था, जिसकी सूचना खेत मालिक के माध्यम से पुलिस को मिली है। मिली जानकारी के अनुसार अमरवाड़ा थाना क्षेत्र के आमाकोल के पास सुबह एक महिला का शव देखकर पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही अमरवाड़ा थाना प्रभारी शशि विश्वकर्मा ने पुलिस दल के साथ मौके पर पहुंचकर शव बरामद किया और उसकी शिनाख्त कराई है। महिला तामिया थाना क्षेत्र के चुरईडोंगरी निवासी रंगबती बाई पति मधुभान धुर्वे उम्र 40 वर्ष बताई जा रही है। पुलिस के अनुसार महिला की शिनाख्त उसकी सौतेली बेटी और दामाद ने की है। महिला की हत्या लाठियों से पीटकर किए जाने की आशंका जताई जा रही है। पु़लिस ने घटना पर अज्ञात हत्यारों के खिलाफ धारा 302,201 आईपीसी के तहत प्राथमिकी दर्ज कर हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है।
हत्या कर शव जंगल में फेंके जाने का संदेह
पुलिस की प्राथमिक जांच में यह मामला हत्या कर शव को जंगल में फेंके जाने का प्रतीत हो रहा है। मृतिका तामिया थाना क्षेत्र के चुरई डोंगरी की निवासी है। अमरवाड़ा थाना क्षेत्र में उसका शव बरामद किया गया है। आशंका है कि हत्यारों ने हत्या के बाद महिला का शव यहां लाकर फेंका है। पुलिस के अनुसार इस मामले में जांच की जा रही है। कुछ संदेहियों से भी पूछताछ पुलिस ने शुरू की है।
संपत्ति विवाद हो सकता है हत्या का कारण
चुरई डोंगरी निवासी मृतिका के पति की मौत लगभग चार साल पहले हो चुकी है। उसकी संपत्ति को लेकर भी परिवार वालों से विवाद सामने आ रहे हैं। महिला की हत्या के पीछे संपत्ति विवाद भी कारण हो सकता है। इस अंधे हत्याकांड में पुलिस हर हत्या के हर पहलू पर जांच में जुटी हुई है। महिला की शिनाख्त होने के बाद अब हत्यारों तक पहुंचने का रास्ता भी साफ हो गया है।
इनका कहना है---
अंधे हत्याकांड में महिला की शिनाख्त करा ली गई है, हत्या के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं, जिन पर जांच की जा रही है। जल्द ही हत्या के आरोपियों को बेनकाब किया जाएगा।
-शशि विश्वकर्मा, थाना प्रभारी अमरवाड़ा।
 

कमेंट करें
quQUV