comScore

शहडोल की युवती का उप्र में दो बार किया गया सौदा,लगातार हुआ दुष्कृत्य

शहडोल की युवती का उप्र में दो बार किया गया सौदा,लगातार हुआ दुष्कृत्य

डिजिटल डेस्क, शहडोल। जिले की एक आदिवासी युवती को उत्तर प्रदेश के ललितपुर में दो बार बेचा गया। पहली बार युवती का सौदा पांच हजार रुपए में हुआ, दूसरी बार चार हजार रुपए में। इस दौरान युवती से कई बार दुष्कृत्य किया गया। कोतवाली थाने में युवती की शिकायत पर बुधवार को एक महिला सहित चार आरोपियों पर धारा 370, 376, 344, 34 भादवि के तहत मामला दर्ज किया गया है।

महिला ले गई था फुसलाकर

पुलिस के अनुसार सोहागपुर थाना अंतर्गत एक गांव में रहने वाली 18 वर्षीय युवती को 10 अगस्त को बस स्टैंड से झिरिया टोला उमरिया निवासी सुनीता उर्फ अनारकली रैदास अपने घर ले गई थी। उमरिया से महिला युवती को बीना ले गई। इसके बाद जखोरा ललितपुर उप्र निवासी रामबाबू अहिरवार को 5 हजार रुपए में बेच दिया। रामबाबू युवती को गुड्डा अहिरवार के घर ले गया। यहां दोनों ने उससे दुराचार किया। इसके बाद गुड्डा ने ललितपुर निवासी परमेश से चार हजार रुपए में युवती का सौदा कर दिया। परमेश ने भी युवती के साथ दुष्कृत्य किया। किसी तरह आरोपियों के चंगुल से भागकर आई युवती ने कोतवाली थाने में आपबीती सुनाई। थाने में आरोपी सुनीता उर्फ अनारकली रैदास, रामबाबू आहिरवार, गुड्डा आहिरवार एवं परमेश के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। आरोपियों की तलाश की जा रही है। 
 

शराब पार्टी के बाद साथी ने की थी चोरी

खमरिया थाना क्षेत्र स्थित ईसाई मोहल्ला पिपरिया में विगत 3 सितम्बर को अनिल मोरे के घर से 1 लाख 94 हजार रुपए नकदी व जेवर चोरी के मामले में पुलिस ने उसके एक साथी को पकड़कर चोरी का माल बरामद किया है। जाँच के दौरान पता चला कि चोरी के पहले शराब पार्टी हुई थी और पार्टी में शामिल एक साथी ने ही घर से नकदी व जेवर चोरी किए थे। सूत्रों के अनुसार ईसाई मोहल्ला निवासी अनिल मोरे ने बीती शाम रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 3 सितम्बर को दोपहर में उसकी पत्नी और बेटा रिश्तेदारी में कांचघर गये थे और वह घर पर आराम कर रहा था। साथ में उसके परिचित के  रानू कुशवाहा और जितेंद्र थे। घर का दरवाजा खुला था, उसने खेत बेचा था जिसके आलमारी में नकद 1 लाख 94 हजार रुपये एवं चाँदी की पायल एवं खुसना कीमत 2 हजार रुपये के रखे थे जो चोरी हो गये। जाँच के दौरान वीरेंद्र उर्फ रानू कुशवाहा को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गयी तो उसने कबूल किया कि गृहस्वामी अनिल ने उससे कहा था कि आलमारी से पैसा निकालकर शराब ले आओ। वह पैसा निकालने गया तो आलमारी में नोटों की गड्डियाँ रखी थीं जिससे उसकी नीयत खराब हुई और उसने अनिल को अत्यधिक शराब पिलाई और आलमारी में रखी नकदी व जेवर चोरी कर लिए थे। पूछताछ के बाद आरोपी के कब्जे से चोरी का माल बरामद किया गया।  
 

कमेंट करें
k2iHK