comScore

IPL: BCCI को सरकार ने UAE में IPL आयोजित कराने की मंजूरी दी, 19 सिंतबर से 10 नवंबर के बीच होगा टूर्नामेंट

IPL: BCCI को सरकार ने UAE में IPL आयोजित कराने की मंजूरी दी, 19 सिंतबर से 10 नवंबर के बीच होगा टूर्नामेंट

हाईलाइट

  • BCCI) को यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग IPL आयोजित करने के लिए भारत सरकार की मंजूरी
  • IPL गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन बृजेश पटेल ने इसकी पुष्टि की
  • 19 सिंतबर से 10 नवंबर के बीच खेला जाएगा टूर्नामेंट

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन को आयोजित करने के लिए भारत सरकार की मंजूरी मिल गई है। IPL गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन बृजेश पटेल ने इसकी पुष्टि की। बता दें कि IPL का आयोजन 29 मार्च से किया जाना था लेकिन कोरोनावायरस के चलते इसे टाल दिया गया था। अब नई तारीखों के साथ IPL का आयोजन 19 सिंतबर से 10 नवंबर के बीच UAE के तीन शहर शारजाह, अबु धाबी और दुबई में किया जा रहा है।

क्या कहा बृजेश पटेल ने?
पटेल ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया, 'हां, हमें सरकार की मंजूरी मिल गई है।' उन्होंने कहा कि बीसीसीआई बायो सिक्योरिटी अरेंजमेंट बनाने के लिए आईपीएल फ्रेंचाइजी के साथ मिलकर काम करेगा। पटेल ने कहा कि हम पहले ही एसओपी (स्टेनडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर) जारी कर चुके हैं। उन्हें इसका पालन करना होगा। इसकी देखरेख के लिए हमारे पास एक कमेटी होगी। बता दें कि जब एक इंडियन स्पोर्ट बॉडी एक घरेलू टूर्नामेंट को विदेश में शिफ्ट करता है, तो उसे गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और खेल मंत्रालय से मंजूरी की आवश्यकता होती है।

पटेल ने बताया कि जब BCCI को मौखिक रूप से सरकार की मंजूरी मिल गई थी तो अमीरात क्रिकेट बोर्ड को सूचित कर दिया गया था। अब हमारे पास का कागजात भी है तो फ्रेंचाइजी को सूचित किया जा सकता है कि सब कुछ ऑर्डर में है। अधिकांश फ्रेंचाइजी 20 अगस्त के बाद UAE के लिए उड़ान भरेंगी। उड़ान भरे से पहले 24 घंटे के भीतर दो अनिवार्य RT-PCR (COVID-19 टेस्ट) कराना होगा। 22 अगस्त को रवाना होने वाले चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी और स्टाफ कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के आग्रह पर चेपॉक में एक छोटा सा कैंप लगाएंगे।

VIVO ने पिछले हफ्ते छोड़ी थी टाइटल स्पॉन्सरशिप
बता दें कि, भारत और चीन के बीच विवाद के चलते चीनी मोबाइल फोन निर्माता कंपनी VIVO ने पिछले हफ्ते IPL 2020 के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप से अपना नाम वापस ले लिया था। BCCI ने भी शनिवार यानी 8 अगस्त को इस पर मुहर लगा दी थी। VIVO टाइटल स्पॉन्सशिप के लिए हर साल BCCI को 440 करोड़ रुपये का भुगतान करता था। कोरोनावायरस महामारी के चलते इस समय बाजार की हालत अच्छी नहीं है। इसलिए BCCI भी समझता है कि, एक साल के लिए कोई नई कंपनी शायद ही VIVO जितना भुगतान कर पाए।  VIVO के हटने के बाद अब योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि (Patanjali) भी टाइटल स्पॉन्सर बनने की दौड़ में शामिल हो गई है।

कंपनियां 14 अगस्त तक कर सकती हैं आवेदन
वहीं ऑनलाइन शॉपिंग दिग्गज कंपनी एमेजॉन, टाटा ग्रुप, अडानी ग्रुप, जियो, फैंटसी स्पोर्टस कंपनी ड्रीम 11, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, टीम इंडिया की जर्सी स्पॉन्सर और ऑनलाइन लर्निंग कंपनी बायजूज भी IPl 2020 का टाइटल स्पॉन्सर बनना चाहती हैं। BCCI ने IPL 2020 के टाइटल स्पॉन्सरशिप राइट्स के लिए 10 अगस्त से एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EOI) मांगे हैं। इच्छुक कंपनियां 14 अगस्त तक अपने आवेदन भेज सकती हैं।

कमेंट करें
wARdz