comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

कोरोना पीड़ितों की मदद: सानिया ने जुटाए 1.25 करोड़, सांसद निधि से मैरीकॉम देंगी एक करोड़

कोरोना पीड़ितों की मदद: सानिया ने जुटाए 1.25 करोड़, सांसद निधि से मैरीकॉम देंगी एक करोड़

हाईलाइट

  • भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने 10 लाख रुपये दान दिए
  • सानिया मिर्जा ने कोरोना के खिलाफ जंग में 1.25 करोड़ रुपये जुटाए
  • भारतीय खेल प्राधिकरण के कर्मचारियों ने 76 लाख रुपये का योगदान दिया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में अब भारतीय महिला खिलाड़ी भी आगे आ रही हैं। टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने कोरोनावायरस पीड़ितो के लिए 1.25 करोड़ रुपये जुटाए हैं। सानिया इस पैसे को 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान जरुरतमंद लोगों पर खर्च करेंगी। मुक्केबाज और राज्यसभा सांसद मैरीकॉम भी सांसद निधि में से एक करोड़ रुपये दान देंगी। वहीं भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने 10 लाख रुपये दान दिए हैं। मिताली ने प्रधानमंत्री राहत कोष में 5 लाख रुपये और तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में भी 5 लाख रुपये दान किए हैं।

आपदा से अपने देश को बाहर निकालना होगा
मिताली ने टिवटर पर कहा, हमें साथ मिलकर इस आपदा से अपने देश को बाहर निकालना होगा। मैं प्रधानमंत्री राहत कोष में पांच लाख रुपये और तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में भी पांच लाख रुपये दान करती हूं। इससे पहले दीप्ति शर्मा ने भी पश्चिम बंगाल आपातकालीन राहत कोष में 50000 रुपये दान किए। इसके अलावा 16 साल की आलराउंडर रिचा घोष ने पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 लाख रुपये का दान किया। 

कोरोनावायरस: IPL पर अभी कोई फैसला नहीं, BCCI स्थिति पर नजर बनाए हुए है

सानिया ने जुटाए 1.25 करोड़
टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने कोरोना के खिलाफ जंग में 1.25 करोड़ रुपये जुटाए हैं और अब वह इस राशि को जरूरतमंद लोगों में बांटेंगी। सानिया का मानना है कि, 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान इससे करीब 1 लाख लोगों को मदद मिलेगी। सानिया ने ट्विटर पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा, जरूरतमंद लोगों को कुछ सहायता प्रदान करने के लिए हमने पिछले सप्ताह एक टीम के रूप में प्रयास किया। हमने हजारों परिवारों को भोजन प्रदान किया और एक सप्ताह में 1.25 करोड़ रुपये जुटाए, जो एक लाख लोगों की मदद करेगा। यह एक सतत प्रयास है और हम सब एकजुट होकर ऐसा कर रहे हैं।

मैरी कॉम ने सांसद निधि से 1 करोड़ रुपए दिए
दिग्गज महिला मुक्केबाज राज्यसभा सांसद मैरी कॉम ने अपनी एक महीने की सैलरी पीएम रिलीफ केयर फंड में दी थी। वहीं इसके अलावा उन्होंने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास स्कीम फंड में से एक करोड़ रुपये दान किए थे। मैरी कॉम ने ट्विटर पर इस बात की भी जानकारी दी की वो अपने एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में देंगी। उन्होंने दोनों पत्रों की फोटो पोस्ट की और लिखा, घर में रहिए सुरक्षित रहिए। इससे पहले युवा महिला निशानेबाज मनु भाकेर ने कोरोनावायरस से लड़ाई में हरियाणा मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 लाख रुपये की मदद की थी। 

SAI का 76 लाख रुपये का योगदान
वहीं भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के कर्मचारियों ने एकजुटर होकर कोरोनावायरस से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष में 76 लाख रुपये का योगदान दिया। ये राशि साई के ग्रुप-ए, बी और सी के कर्मचारियों ने दिए हैं। ए-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी तीन दिन की, बी-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी दो दिन की और सी-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी एक दिन का सैलरी दान की है। केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने साई के कर्मचारियों की इस पहल का स्वागत किया है। रिजिजू ने उनकी तारीफ करते हुए टिवटर पर लिखा, मुझे यह बताते हुए बेहद गर्व महसूस हो रहा है कि भारतीय खेल प्राधिकरण के ए-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी तीन दिन की, बी-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी दो दिन की और सी-ग्रुप के कर्मचारियों ने अपनी एक दिन का सैलरी प्रधानमंत्री राहत कोष में दान की है। केंद्रीय खेल मंत्री रिजिजू ने इससे पहले, खुद भी एक करोड़ रुपये दान किया था।

BCCI और कई खिलाड़ियों ने किया दान
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भी प्रधानमंत्री केयर फंड में 51 करोड़ रुपए दान किए हैं। इसके अलावा भारतीय पुरुष खिलाड़ियों में पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने 50 लाख, सुरेश रैना ने 52 लाख रुपए दान किए थे। वहीं भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने भी दान किया है। लेकिन उन्होंने कितनी राशि दान की है इस बात की कोई जानकारी नहीं दी है। वहीं शट्लर पीवी सिंधु, पहलवान बजरंग पुनिया और  स्प्रिंटर हिमा दास भी अपना योगदान दे चुके हैं।  


 

कमेंट करें
nuqaO
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।