दैनिक भास्कर हिंदी: बल्लेबाज को बोल्ड करने के बाद इस मशहूर गेंदबाज ने दी मैदान पर गालियां, लगा था भारी जुर्माना, दर्शकों ने की हूटिंग 

March 6th, 2021

हाईलाइट

  • 6 मार्च 1994 को आस्ट्रेलिया और दक्षिण-अफ्रीका के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा था।
  • इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान केपलर वेसेल्स ने टॉस जीता और बैटिंग चुनी।
  • शेन वॉर्न ने घटना के बारे में अपनी किताब ‘Shane Warne: My Own Story’ में लिखा

डिजिटल डेस्क (भोपाल)।  क्रिकेट के मैदान पर खिलाड़ियों के बीच तू-तू, मैं-मैं हमेशा चर्चा में रही है। लेकिन एक ऐसा क्रिकेटर भी है, जो अक्सर विवादों की वजह से सुर्खियों में रहा है। जी हां, इस क्रिकेटर का नाम है शेन वार्न। आस्ट्रेलिया के गेंदबाज ने कई बार मैदान पर बड़े-बड़े हंगामे किए हैं। ऐसा ही एक विवाद हुआ था आज ही के दिन 6 मार्च 1994 को जब जोहानसबर्ग के ग्राउंड पर आस्ट्रेलिया और दक्षिण-अफ्रीका के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा था। 4 मार्च से शुरू हुआ यह टेस्ट मैच 8 मार्च तक चला था। 

इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान केपलर वेसेल्स ने टॉस जीता और बैटिंग चुनी। साउथ अफ्रीका की पहली पारी 251 रन पर सिमट गई थी। इसके बाद आस्ट्रेलिया की पहली पारी भी 248 रन पर आलआउट हो गई और मैच काफी रोमांचक मोड़ पर पहुंच चुका था। इसके बाद मैच के तीसरे दिन जब साउथ अफ्रीका की दूसरी पारी मैदान में उतरी तो 44वें ओवर में वार्न ने ऐसा कुछ किया कि वह इतिहास में दर्ज हो गया। शेन वॉर्न ने घटना के बारे में अपनी किताब ‘Shane Warne: My Own Story’ में लिखा कि कप्तान एलन बॉर्डर ने गेंद देखते हुए कहा, ‘हमें तुम्हारी जरूरत है वॉर्नी, कम ऑन, विकेट दिलाओ। मैं उस समय मैदान में मौजूद 40 हजार लोगों को दिखाना चाहता था कि मैं सब ठीक कर दूंगा।’ मैच में 43 ओवर फेंके जा चुके थे और वार्न ने एक भी ओवर नहीं किया था। ऐसे में वॉर्न के ओवर की तीसरी गेंद पर एंड्रयू हडसन बोल्ड हो गए, इस पर वॉर्न ने चिल्लाते हुए गाली दी और दोबारा गाली देते हुए हडसन से मैदान से बाहर जाने को कहा। 

गाली सुनकर हडसन गुस्सा हो गए और वॉर्न से भिड़ गए। ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर इयान हिली ने वॉर्न को रोकने की कोशिश की। वहीं, दर्शक भी वॉर्न के बर्ताव को देखकर नाराज हो गए, उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर के खिलाफ खूब हूटिंग की। ऑस्ट्रेलियन टीम के खिलाड़ी भी वॉर्न के इस अंदाज पर हैरान थे, लेकिन जो हुआ उसे बदला तो नहीं जा सकता था। मैच रेफरी डॉनल्ड केर ने वॉर्न पर 220 पाउंड का जुर्माना लगाया, बाद में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भी वॉर्न पर जुर्माना लगाया। हालांकि, वॉर्न ने एंड्रयू हडसन से माफी मांगी और यह मामला खत्म हो गया। 

दरअसल, दूसरी पारी में साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों ने धमाकेदार शुरुआत की और दूसरी पारी 450 रन पर घोषित कर दी थी। पहला विकेट 76 रन पर गिरा था और दूसरा विकेट एंड्रयू हडसन का 123 रन पर गिरा, उन्होंने 60 रन की पारी खेली। इसके बाद खेलने उतरी आस्ट्रेलिया की टीम 256 रन पर आलआउट हो गई थी और दक्षिण अफ्रीका ने यह मैच 197 रन जीत लिया था। 

 

 

 

खबरें और भी हैं...