दैनिक भास्कर हिंदी: Cricket: एडिलेड टेस्ट में शानदार गेंदबाजी के बाद अश्विन बोले- ऐसा लग रहा है, जैसे मैं टेस्ट क्रिकेट में फिर से डेब्यू कर रहा हूं

December 18th, 2020

हाईलाइट

  • अश्विन ने एक बार फिर से एडिलेड में आस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की

डिजिटल डेस्क, एडिलेड। भारतीय स्टार आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने एक बार फिर से एडिलेड में आस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी पहले डे-नाइट टेस्ट के दूसरे दिन शानदार गेंदबाजी की। अश्विन ने दूसरे दिन के खेल समाप्ति के बाद पत्रकारों से कहा, मैं काफी खुश हूं कि हम (टीम इंडिया) एक बार फिर टेस्ट क्रिकेट खेल रहे हैं। दुनियाभर में जो कुछ (कोरोना) चल रहा है, उसके बीच में हमें उम्मीद नहीं थी कि हम जल्दी मैदान पर उतर पाएंगे। लेकिन करीब 10 महीने बाद टेस्ट क्रिकेट में लौटकर अच्छा लग रहा है। इतने समय तक मैदान से दूर रहने के बाद अब लग रहा है, जैसे मैं टेस्ट क्रिकेट में फिर से डेब्यू कर रहा हूं।

भारतीय स्टार ऑफ स्पिनर ने कहा, कभी कभी जब आप विदेश दौरे पर होते हैं और चार गेंदबाजों के साथ साथ उतरते हैं तो मेरा काम एक छोर को संभाले रखना और दूसरे छोर से तेज गेंदबाजों को रोटेट करना तथा उन्हें सपोर्ट करना होता है। साथ ही विकेट के लिए भी जाना होता है। मेरे लिए, बल्लेबाजों के लिए चीजें मुश्किल बनाना रनों का बचाव करना महत्वपूर्ण है। वहीं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉन्टिंग ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी से निराश दिखे। उन्होंने कहा, अश्विन के खिलाफ हमारे बल्लेबाज जरूरत से ज्यादा आक्रामक दिख रहे थे। उन्होंने अश्विन को कम कर के आंका लेकिन अश्विन ने दिखा दिया कि वह कितने शानदार है। अश्विन के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई टीम के आक्रामक रवैये के कारण पहली पारी में टीम की बल्लेबाजी बिखर गई।

अश्विन ने 18 ओवर में 55 रन देकर 4 विकेट लिए
बता दें कि आर अश्विन ने 18 ओवर में 55 रन देकर 4 विकेट लिए। पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ  सहित ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी के मिडिल ऑर्डर को अश्विन ने अकेले ही तमाम कर दिया। अश्विन ने स्टीव स्मिथ के विकेट से इस मैच में अपना खाता खोला और इसके बाद उन्होंने ट्रेविस हेड और कैमरन ग्रीन को पवेलियन की राह दिखाई। पिछली बार जब भारत ने 2018-19 में आस्ट्रेलिया का दौरा किया था, तो अश्विन एडिलेड टेस्ट में ही खेल पाए थे और उन्होंने दोनों पारियों में तीन-तीन विकेट लिए थे। इसके बाद फिटनेस समस्या के कारण वह सीरीज के बाकी मैचों से बाहर हो गए थे। अश्विन की शानदारी गेंदबाजी के चलते ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 191 रनों पर सिमट गई और भारत ने 53 रनों की लीड हासिल कर ली।