दैनिक भास्कर हिंदी: World Cup: फाइनल में पहुंचने के बाद मॉर्गन ने कहा- 2015 से यहां तक का सफर अविश्वसनीय 

July 12th, 2019

हाईलाइट

  • वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया
  • इंग्लैंड 27 साल बाद वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचा

डिजिटल डेस्क, बर्मिघम। ICC वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में गुरुवार को मेजबान इंग्लैंड ने मौजूदा विजेता ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया और चौथी बार टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया। इंग्लैंड 27 साल बाद वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचा है। इंग्लैंड के लिए यह सफर आसान नहीं रहा। इससे पहले 2015 में उसका वर्ल्ड कप बेहद खराब रहा था। फाइनल में पहुंचने के बाद इंग्लैंड टीम के कप्तान इयॉन मॉर्गन ने कहा कि, 2015 से लेकर इस वर्ल्ड कप तक के फाइनल में पहुंचने का सफर अविश्वसनीय है। इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच फाइनल 14 जुलाई को लंदन के लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाएगा। 

 

 

मॉर्गन ने सेमीफाइनल मैच जीतने के बाद पोस्ट मैच कॉन्फ्रेंस में कहा, 1992 में मैं सिर्फ छह साल का था। मुझे याद नहीं कि क्या हुआ था, लेकिन मैंने झलकियां देखीं हैं। अगर हम पीछे जाकर 2015 को देखते हैं और फिर फाइनल में जाने तक के सफर को देखते हैं तो मुझे यह अविश्वसनीय लगता है। इसके लिए ड्रेसिंग रूम में मौजूद हर शख्स को श्रेय जाता है। वर्ल्ड कप खिताब जीतने के लिए हमें मिले मौके का फायदा उठाना होगा।

इंग्लैंड को इस वर्ल्ड कप में जीत का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा था, लेकिन लीग स्टेज के बीच में वह लड़खड़ा गई थी और सेमीफाइनल में उसका जाना मुश्किल लग रहा था। मेजबान टीम ने दमदार वापसी की और फाइनल में जगह बनाई। मॉर्गन ने कहा, ग्रुप स्टेज से आत्मविश्वास काफी जरूरी था। हमने मैच दर मैच अपने प्रदर्शन में सुधार किया है। इस मैच में हम पहली ही गेंद से लय हासिल कर ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाना चाहते थे। क्रिस वोक्स ने इस मैच में 3 विकेट लिए जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। वोक्स के बारे में कप्तान ने कहा, मैं वोक्स के लिए बेहद खुश हूं। वे बेहद शांत स्वाभाव के खिलाड़ी हैं और बीते कुछ दिनों से हमारे सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे हैं। वह लगातार अपना काम कर रहे हैं। 

खबरें और भी हैं...