comScore

पहले टेस्ट शतक को दोहरे में बदलने वाले भारत के चौथे बल्लेबाज बने मयंक

पहले टेस्ट शतक को दोहरे में बदलने वाले भारत के चौथे बल्लेबाज बने मयंक

हाईलाइट

  • मयंक ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ा
  • मयंक ने 371 गेंदों में 23 चौके और 6 छक्कों की मदद से 215 रन की पारी खेली

डिजिटल डेस्क, विशाखापट्टनम। भारतीय टेस्ट टीम के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन दोहरा शतक जमाया। मयंक का यह पहला टेस्ट शतक है और मयंक अपने पहले ही टेस्ट शतक को दोहरे में तब्दील करने में सफल रहे हैं।

मयंक इसी के साथ पहले टेस्ट शतक को दोहरे में तब्दील करने वाले भारत के चौथे बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले, दिलीप सरदेसाई, करुण नायर और विनोद कांबली ने यह उपलब्धि हासिल की थी। नायर ने तो अपने पहले टेस्ट शतक को तिहरे में तब्दील किया था।

सबसे पहले दिलीप सरदेसाई ने ऐसा किया था। सरदेसाई ने मार्च 1965 में मुंबई में न्यूजीलैंज के खिलाफ पहली बार शतक जमाया था और फिर उसे दोहरे में तब्दील किया था। सरदेसाई 200 रनों पर नाबाद रहे थे। उनके बाद उनके ही शहर मुंबई के विनोद कांबली ने 1993 में मुंबई में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैच में अपने पहले टेस्ट शतक को दोहरे में तब्दील करते हुए 224 रनों की पारी खेली थी।

वहीं, नायर ने दिसंबर-2016 में चेन्नई में इंग्लैंड के खिलाफ अपने पहले टेस्ट शतक को पहले दोहरे और फिर तिहरे शतक में बदला था। नायर ने नाबाद 303 रन बनाए थे। इन तीनों के बाद मयंक इस सूची में शामिल हो गए हैं। उन्होंने इस मैच में 215 रन बनाए, जिसके लिए उन्होंने 371 गेंदें खेलीं और 23 चौके तथा छह छक्के मारे।

कमेंट करें
G3ctK