आईलीग : आरयूएफसी के मुख्य कोच कुंडू बोले, मेरे खिलाड़ी योद्धा हैं और परिस्थितियों के अनुकूल होंगे

November 18th, 2022

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। राजस्थान यूनाइटेड एफसी शनिवार को यहां टीआरसी स्टेडियम में आई-लीग के अपने दूसरे मैच में रियाल कश्मीर एफसी से भिड़ेगी।

दो साल कोविड महामारी के बाद घाटी में फुटबॉल की वापसी हो रही है। मैच के टिकट पहले ही बिक चुके हैं और अनुमानित 14,000 प्रशंसकों के भाग लेने की उम्मीद है।

दोनों टीमों ने अपने अभियान की विजयी शुरूआत की है, राजस्थान ने गोवा में चर्चिल ब्रदर्स को हराया और रियाल कश्मीर ने इंफाल में नेरोका एफसी को हराया। दो युवा भारतीय प्रबंधकों के नेतृत्व में, मैच में एक कठिन मुकाबला होने की उम्मीद है।

राजस्थान यूनाइटेड टीम ने अपना अंतिम प्रशिक्षण सत्र 2 डिग्री तापमान में आयोजित किया और कैंप में सामान्य भावना है, क्योंकि - तीन दिन पहले गोवा में परिस्थितियों में भारी बदलाव के बावजूद यहां आने पर आराम का समय मिला है।

परिस्थितियों में बदलाव के बारे में बोलते हुए कोच पुष्पेंद्र कुंडू ने कहा कि यह एक चुनौती थी, लेकिन उन्हें विश्वास था कि टीम अनुकूलन करेगी और एक रास्ता खोजेगी।

राजस्थान यूनाइटेड में एक खिलाड़ी भी है जो पिछले सीजन में रियाल कश्मीर के लिए खेला था - राघव गुप्ता। जम्मू के रहने वाले गुप्ता ने जल्दी ही टीम में एक महत्वपूर्ण उपस्थिति के रूप में खुद को स्थापित कर लिया है।

उन्होंने कहा, मैं मैदान पर अपने बहुत सारे दोस्तों को देखूंगा। एक पेशेवर के रूप में मेरे काम के लिए मुझे अपनी वर्तमान टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की आवश्यकता है और मैं कोच या अपने साथियों को निराश नहीं करूंगा।

टीम के अंतिम प्रशिक्षण सत्र में, खिलाड़ियों की मुलाकात कश्मीर और भारतीय फुटबॉल के दिग्गज मोहम्मद यूसुफ डार और उनके बेटे साजिद डार से हुई। मोहम्मद यूसुफ डार, 1962-73 के बीच मोहम्मडन स्पोटिर्ंग के लिए खेले और 1978-79 में ऐसा करते हुए वरिष्ठ स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले पहले कश्मीरी फुटबॉलर हैं। उनका बेटा साजिद डार देश के अग्रणी कोचिंग दिमागों में से एक है, महिला राष्ट्रीय टीम का मुख्य कोच रहा है और कश्मीर के फुटबॉल के पुनरुत्थान के लिए अच्छा काम किया है।

 

 (आईएएनएस)।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.