दैनिक भास्कर हिंदी: क्रिकेट: सकलैन ने कहा- हरभजन टीम इंडिया के लिए नियमित रूप से खेलते, तो वह अब तक 700 टेस्ट विकेट ले चुके होते

April 28th, 2020

हाईलाइट

  • सकलैन मुश्ताक ने कहा- हरभजन नियमित रूप से खेलते रहते तो वह अब तक 700 से ज्यादा टेस्ट विकेट ले चुके होते
  • हरभजन ने भारतीय टीम के लिए 103 टेस्ट मैचों में 417 विकेट लिए, 2012 से वह भारतीय टीम का नियमित हिस्सा नहीं हैं
  • साल 2012 के बाद से हरभजन ने सिर्फ 5 टेस्ट मैच खेले, उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2015 में खेला था

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज स्पिन गेंदबाज सकलैन मुश्ताक ने हरभजन सिंह को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे बेहतरीन ऑफ स्पिनर्स में गिने जाने वाले सकलैन ने कहा कि, उन्हें यकीन है कि अगर हरभजन नियमित रूप से खेलते रहते तो वह अब तक 700 से ज्यादा टेस्ट विकेट ले चुके होते। हरभजन सिंह भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे कामयाब गेंदबाजों में गिने जाते हैं। इस दिग्गज ऑफ स्पिनर ने भारतीय टीम के लिए 103 टेस्ट मैचों में 417 विकेट लिए हैं। हालांकि, 2012 से वह भारतीय टीम का नियमित हिस्सा नहीं हैं। 

ऑफ स्पिन में ‘दूसरा’ ईजाद करने वाले सकलैन मुश्ताक ने कहा कि, वह हैरान थे जब हरभजन को भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया था। उन्होंने यह भी कहा कि रविचंद्रन अश्विन और हरभजन की गेंदबाजी का स्टाइल काफी अलग है और वे दोनों एक साथ टीम में खेल सकते हैं। उन्होंने सवाल किया कि जब दो दाएं हाथ के तेज गेंदबाज एक साथ खेल सकते हैं, तो दो दाएं हाथ के स्पिनर साथ क्यों नहीं खेल सकते।

मुश्ताक ने आगे कहा कि, हरभजन के पास क्लास है वह नियमित रूप से खेलते रहते तो अब तक कम से कम 700 टेस्ट विकेट ले चुके होते। 2011 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम में स्पिन गेंदबाजी को लेकर सोच में बदलाव देखा गया था। रविचंद्रन अश्विन शानदार गेंदबाजी कर रहे थे और ऐसे में हरभजन की जगह टीम में स्थायी नहीं रही। साल 2012 के बाद से हरभजन ने सिर्फ 5 टेस्ट मैच खेले हैं। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2015 में खेला था।

अश्विन और जडेजा 100 टेस्ट मैच खेलेंगे
सकलैन ने भारतीय टीम के मौजूदा स्पिनर्स रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव के बारे में भी अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि, जडेजा और अश्विन दोनों 100 टेस्ट मैच खेल सकते हैं। उन्होंने कहा, भारत में बहुत अच्छी क्वॉलिटी के स्पिनर्स हैं। कुलदीप ने भी अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया है। अश्विन और जडेजा नियमित तौर पर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, वे विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं। मुझे यकीन है कि, अश्विन और जडेजा 100 टेस्ट मैच खेलेंगे। बता दें कि, अश्विन ने अब तक भारतीय टीम के लिए 71 टेस्ट मैचों में 365 विकेट लिए हैं, वहीं जडेजा ने 49 टेस्ट में 213 विकेट अपने नाम किए हैं।

खबरें और भी हैं...