संजू सैमसन पर बयान: वर्ल्ड कप की टी-20 टीम में संजू सैमसन को जगह नहीं मिलने पर पूर्व सेलेक्टर का आया चौंकाने वाला बयान 

September 15th, 2022

हाईलाइट

  • रवि बिश्नोई और ईशान किशन की जगह भी खतरे में

डिजिटल डेस्क, मुंबई। 15 अक्टूबर 2022 को ऑस्ट्रेलिया में शुरू होने जा रहे आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप की स्क्वाड में संजू सैमसन को जगह नहीं दिए जाने पर पूर्व बीसीसीआई चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद का बड़ा बयान सामने आया है। प्रसाद ने कहा कि टीम मैनेजमेंट संजू सैमसन को वर्ल्ड कप नहीं खिलाना चाहता है। इसी के कारण संजू को मैनेजमेंट ने ज्यादा मौके ही नहीं दिए। अगर सेलेक्शन कमेटी संजू को वर्ल्ड कप में भेजना चाहती तो वह उसे एशिया कप और आने वाली कुछ अन्य सीरीजों में मौका देती लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। इसका मतलब साफ है कि बोर्ड की प्राथमिकता में संजू थे ही नहीं। 

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक प्रसाद से कहा, "सवाल है कि संजू सैमसन किस प्लेयर की जगह टीम में आएंगे? दीपक हुड्डा आपको एक एक्स्ट्रा बॉलिंग ऑप्शन देते हैं। वह संजू की तरह किसी भी नंबर पर बैटिंग भी कर सकता है। जबकि श्रेयस अय्यर ने श्रीलंका और वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है।"

रवि बिश्नोई और ईशान किशन की जगह भी खतरे में 

प्रसाद के मुताबिक, सिर्फ ईशान किशन ही नहीं बल्कि रवि बिश्नोई और ईशान किशन की जगह नहीं खतरे में है। उन्होंने कहा, "यदि टीम मैनेजमेंट संजू सैमसन को स्क्वॉड में लेना चाहता, तो एशिया कप में या उसके बाद होने वाली ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज में मौका जरूर देता। यदि उनका सेलेक्शन नहीं हुआ है, तो इसका मतलब है कि वह प्लान में नहीं थे। मुझे लगता है कि इस वर्ल्ड कप के बाद संजू सैमसन, रवि बिश्नोई और ईशान किशन से दूसरे खिलाड़ियों को ज्यादा मौके मिलेंगे। खासकर टी20 में उन्हें लगातार मौके मिलेंगे।"

आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान है संजू सैमसन 

संजू सैमसन प्रभावशाली प्रदर्शन के बावजूद भारतीय टीम में रेगुलर जगह सुनिश्चित नहीं कर पाए हैं। उन्होंने अभी तक भारत के लिए 7 वनडे और 16 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले है। इस दौरान उन्होंने वनडे में 44 की औसत से 176 और टी20 में 21.14 की औसत से 296 रन बनाए हैं। उन्होंने आईपीएल में अब तक कुल 138 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 2598 रन बनाए हैं।

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए भारतीय टीम

रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, आर. अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह

स्टैंडबाय खिलाड़ी - मोहम्मद शमी, श्रेयस अय्यर, रवि बिश्नोई, दीपक चाहर.