comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

900 विकेट लेने वाले विनय कुमार ने क्रिकेट को कहा अलविदा, सोशल मीडिया पर लिखा, ‘रिटायरमेंट स्टेशन पर पहुंची दावेनगेरे एक्सप्रेस’

900 विकेट लेने वाले विनय कुमार ने क्रिकेट को कहा अलविदा, सोशल मीडिया पर लिखा, ‘रिटायरमेंट स्टेशन पर पहुंची दावेनगेरे एक्सप्रेस’

हाईलाइट

  • रिटायरमेंट स्टेशन पर पहुंची दावेनगेरे एक्सप्रेस
  • फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 504 विकेट लिए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज तथा रणजी में कर्नाटक की कप्तानी करने वाले विनय कुमार ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। 37 वर्षीय कुमार ने भारत के लिए 31 वनडे, 9  टी-20 और 1 टेस्ट मैच खेला है। वनडे में उनका आखिरी मैच 2013 में बेंगलुरु में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रहा।

रणजी ट्रॉफी में उनकी कप्तानी में कर्नाटक ने 2013-14 और 2014-15 में दो बार इस टूर्नामेंट का खिताब जीता। विनय कुमार ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट के 139 मैचों में 504 विकेट लिए हैं। इसके अलावा उन्होंने 141 लिस्ट ए मैचों में 225 और 181 टी-20 मैचों में 194 विकेट चटकाए। इस तरह उन्होंने अपने क्रिकेटिंग करियर में लगभग 900 विकेट हासिल किए।

Image

रिटायरमेंट स्टेशन पर पहुंची दावेनगेरे एक्सप्रेस
कुमार ने सोशल मीडिया में पोस्ट कर लिखा कि दावेनगेरे एक्सप्रेस जो 25 वर्षों से चल रही थी और उसने क्रिकेट के कई स्टेशनों को पार किया, वो आज उस स्टेशन पर पहुंच गई जिसे रिटारमेंट कहते हैं। उन्होंने लिखा कि यह आसान फैसला नहीं था। हालांकि, हर एक खिलाड़ी के जीवन में एक दिन ऐसा आता है, जहां उसे यह निर्णय लेना पड़ता है। मैं विनय कुमार अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा करता हूं।

अपने रिटायरमेंट लेटर में विनय कुमार ने सभी सीनियर खिलाड़ियों को धन्यवाद कहते हुए लिखा, 'मेरा कैरियर अनिल कुंबल, राहुल द्रविड़, एम एस धोनी, वीरेन्द्र सहवाग, गौतम गंभीर जैसे खिलाड़ियों के बीच रहते हुए और साथ खेलता हुए आगे बढ़ा। मैं जब मुंबई इंडियंस के लिए खेलता था तब सचिन तेंदुलकर की  गाइडेंस भी बहुत मिलती थी।' उन्होंने कहा, 'मैं बहुत सौभाग्यशाली हूं कि अपने देश के लिए मैं खेल पाया। मेरे कैरियर में कई यादगार क्षण आए जिसको मैं जीवन भर नहीं भूलूंगा। मैं कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन को भी इस मौके पर धन्यवाद कहना चाहता हूं जिन्होंने मुझे मौका दिया। यहीं से मुझे मौका मिला देश के लिए खेलने का।'

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 504 विकेट लिए
कुमार ने 2004 में रणजी ट्रॉफी मैच में बंगाल के खिलाफ कर्नाटक के लिए खेलते हुए अपने क्रिकेट की शुरुआत की थी। अपने 17 साल के लंबे प्रथम श्रेणी करियर में उन्होंने 139 मैचों में 22.44 के औसत से 504 विकेट लिए। 

आईपीएल में 105 विकेट अपने नाम किए
कुमार ने आईपीएल के 11 सत्र भी खेले। वह कोच्चि टस्कर्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की ओर से खेले। उन्होंने आईपीएल में 105 विकेट झटके।

अंतर्राष्ट्रीय करियर
वनडे में कुमार ने 38 विकेट और टी-20 में 10 विकेट लिए। अपने एकमात्र टेस्ट में उन्होंने एक विकेट लिया।

कमेंट करें
qchAJ