comScore

शिवसेना नेता का ऐलान- कमलेश के हत्यारों का सिर काटने वाले को दूंगा 1 करोड़

शिवसेना नेता का ऐलान- कमलेश के हत्यारों का सिर काटने वाले को दूंगा 1 करोड़

हाईलाइट

  • हत्यारों के खिलाफ कोई कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया जाना चाहिए
  • अरुण पाठक ने कहा कि पैसा उनके परिवार के सदस्यों को दिया जाएगा
  • पीड़ित परिवार ने कहा- कमलेश को 2016 में ही जान से मारने की धमकी मिली थी

डेस्क, नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हिंदू समाज पार्टी के प्रमुख कमलेश तिवारी मर्डर को लेकर शिवसेना के एक नेता बड़ा बयान दिया है। इससे इलाके में तनाव की स्थिति बन गई है। शिवसेना नेता ने वीडियो जारी कर कहा है कि कमलेश तिवारी की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार तीन लोगों का सिर कलम करने वाले को एक करोड़ रुपए का इनाम दूंगा।

शिवसेना नेता ने वीडियो में कहा कि कहा कि मेरा मानना ​​है कि कमलेश तिवारी की बेरहमी से हत्या करने वाले लोगों के खिलाफ कोई कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया जाना चाहिए। उनका उसी शैली में सिर कलम किया जाना चाहिए। मैं, अरुण पाठक, हत्यारों का सिर कलम करने के लिए एक करोड़ रुपए का इनाम देने की घोषणा करता हूं। यह पैसा उनके परिवार के सदस्यों को दिया जाएगा।

शिवसेना नेता ने कहा कि तिवारी की हत्या इसलिए की गई, क्योंकि वह हिंदुओं के पक्ष में बोल रहे थे और उनकी हत्या यह संदेश देने की कोशिश है कि जो भी हिंदुओं के लिए बोलेगा उसे खत्म कर दिया जाएगा। पाठक ने घोषणा की कि हम भारत में ऐसा नहीं होने देंगे।

कड़ी मशक्कत बाद कमलेश तिवारी का अंतिम संस्कार

कमलेश तिवारी के शव का अंतिम संस्कार कराने के लिए शनिवार को प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी। दोपहर बाद सीतापुर में उनके बड़े बेटे सत्यम तिवारी ने अपने पिता के पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार के मद्देनजर महमूदाबाद के बाजार को ऐतिहातन बंद रखा गया और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने बलों की तैनाती कर रखी थी।

सूरत से हत्या के कनेक्शन

गौरतलब है कि हिंदू समाज पार्टी के प्रमुख कमलेश तिवारी की शुक्रवार को लखनऊ में हत्या कर दी गई थी। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। तिवारी हिंदू महासभा के पूर्व नेता थे और सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या भूमि विवाद मामले में अपीलकर्ता थे।कमलेश की हत्या की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (SIT) का गठन किया गया है। सूरत से तिवारी की हत्या के सिलसिले में जांच के लिए उत्तर प्रदेश और गुजरात पुलिस की संयुक्त टीम काम कर रही है।

पुलिस के अनुसार आरोपी की पहचान मौलाना मोहसिन शेख (24), खुर्शीद अहमद पठान (23) और फैजान (21) के रूप में हुई है। आरोप है कि इन्होंने 2015 के भाषण के दौरान अपनी आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिए तिवारी की हत्या कर दी। पीड़ित परिवार ने कहा कि उन्हें 2016 में ही जान से मारने की धमकी मिली थी।

कमेंट करें
RPq4s