comScore

सावन मास में करें दुर्गा सप्तशती के मंत्रों का जाप, परेशानियां होंगी दूर

July 25th, 2018 18:31 IST

डिजिटल डेस्क, भोपाल। तंत्र शास्त्र के अनुसार श्रावण मास या किसी भी नवरात्री में यदि दुर्गा सप्तशती के मंत्रों का जाप विधि-विधान से किया जाए तो साधक का हर कष्ट (परेशानी) दूर किया जा सकता है। 28 जुलाई 2018 से श्रावण मास का आरंभ हो रहा है। इसमें शिव जी के साथ यदि देवी भक्ति भी की जाए और उनके विभिन्न मंत्रो का जाप किया जाए तो अनेक प्रकार की बाधा को दूर किया जा सकता है।

आइये जानते हैं मंत्रों का विधान एवं किस मंत्र का जप करने से क्या लाभ प्राप्त किया जा सकता है..

दुर्गा सप्तशती में हर समस्या के लिए एक विशेष मंत्र बताया गया है। ये मंत्र बहुत ही शीघ्र अपना प्रभाव दिखाते हैं। यदि आप मंत्रों का उच्चारण ठीक से नहीं कर सकते तो किसी योग्य ब्राह्मण से इन मंत्रों का जाप करवाएं अन्यथा इसके दुष्परिणाम भी हो सकते हैं।

Image result for दुर्गा सप्तशती पाठ


मंत्र जाप की विधि इस प्रकार है

सुबह जल्दी उठकर शुद्ध एवं साफ वस्त्र धारण कर सबसे पहले शिव और माता दुर्गा की पूजा करें। इसके बाद एकांत में कुशा के आसन पर बैठकर लाल चंदन के मोतियों की माला से इन मंत्रों का जाप करें। इन मंत्रों की प्रतिदिन 5 माला जाप करने से मन को शांति तथा प्रसन्नता मिलती है। यदि जाप का समय, स्थान, आसन, तथा जाप करने की माला एक ही हो तो यह मंत्र शीघ्र ही सिद्ध हो जाते हैं।

1- विपत्ति नाश के लिए मंत्र

देवि प्रपन्नार्तिहरे प्रसीद
प्रसीद मातर्जगतोखिलस्य।
प्रसीद विश्वेश्वरी पाहि विश्वं
त्वमीश्वरी देवि चराचरस्य।।

2- बाधा शांति के लिए

सर्वाबाधाप्रशमनं त्रैलोक्यस्याखिलेश्वरि।
एवमेव त्वया कार्यमस्मद्वैरिविनासनम्।।

3- रोग नाश के लिए

रोगानशेषानपहंसि तुष्टा
रुष्टा तु कामान् सकलानभीष्टान् ।
त्वामाश्रितानां न विपन्नराणां
त्वामाश्रिता ह्याश्रयतां प्रयान्ति।।

4- भय (डर) नाश के लिए

यस्या: प्रभावमतुलं भगवाननन्तो
ब्रह्मा हरश्च न हि वक्तुमलं बलं च।
सा चण्डिकाखिलजगत्परिपालनाय
नाशाय चाशुभभयस्य मतिं करोतु।।

5- सर्व कल्याण के लिए मंत्र

देव्या यया ततमिदं जगदात्मशक्त्या
निश्शेषदेवगणशक्तिसमूहमूत्र्या।
तामम्बिकामखिलदेवमहर्षिपूज्यां
भकत्या नता: स्म विदधातु शुभानि सा न:।।

6- स्वप्न में सिद्धि-असिद्धि जानने का मंत्र

दुर्गे देवि नमस्तुभ्यं सर्वकामार्थसाधिके।
मम सिद्धिमसिद्धिं वा स्वप्ने सर्वं प्रदर्शय।।

7- मोक्ष प्राप्ति के लिए

त्वं वैष्णवी शक्तिरनन्तवीर्या
विश्वस्य बीजं परमासि माया।।
सम्मोहितं देवि समस्तमेतत्
त्वं वै प्रसन्ना भुवि मुक्तिहेतु:।।

8- स्वर्ग प्राप्ति और मुक्ति के लिए

सर्वस्य बुद्धिरूपेण जनस्य हदि संस्थिते।
स्वर्गापर्वदे देवि नारायणि नमोस्तु ते।।

9- आत्मरक्षा के लिए

शूलेन पाहि नो देवि पाहि खड्गेन चाम्बिके।
घण्टास्वनेन न: पाहि चापज्यानि:स्वनेन च।।

10- दरिद्रता मिटाने के लिए

दुर्गे स्मृता हरसि भीतिमशेषजन्तो:
स्वस्थै: स्मृता मतिमतीव शुभां ददासि।।
दारिद्रयदु:खभयहारिणि का त्वदन्या
सर्वोपकारकरणाय सदाद्र्रचिता।।

11- सुंदर पत्नी के लिए मंत्र

पत्नीं मनोरमां देहि मनोवृत्तानुसारिणीम्।
तारिणीं दुर्गसंसारसागरस्य कुलोद्भवाम।।

12- इच्छित पति प्राप्ति के लिये

ॐ कात्यायनि महामाये महायेगिन्यधीश्वरि ।
नन्दगोपसुते देवि पतिं मे कुरु ते नमः।।

13- आपत्त्ति से निकलने के लिए

शरणागत दीनार्त परित्राण परायणे ।
सर्वस्यार्तिहरे देवि नारायणि नमो स्तु ते।।

14- भय का नाश करने के लिए

सर्वस्वरुपे सर्वेशे सर्वशक्तिमन्विते ।
भये भ्यस्त्राहि नो देवि दुर्गे देवि नमो स्तु ते।।

15- बीमारी महामारी से बचाव के लिए

रोगानशेषानपहंसि तुष्टा रुष्टा तु कामान् सकलानभिष्टान् ।
त्वामाश्रितानां न विपन्नराणां त्वामाश्रिता ह्माश्रयतां प्रयान्ति।।

16- पुत्र रत्न प्राप्त करने के लिए

देवकीसुत गोविंद वासुदेव जगत्पते ।
देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गतः।।

17- इच्छित फल प्राप्ति

एवं देव्या वरं लब्ध्वा सुरथः क्षत्रियर्षभ।।

18- महामारी के नाश के लिए

जयन्ती मड्गला काली भद्रकाली कपालिनी ।
दुर्गा क्षमा शिवाधात्री स्वाहा स्वधा नमो स्तु ते।।

19- शक्ति और बल प्राप्ति के लिये

सृष्टि स्तिथि विनाशानां शक्तिभूते सनातनि ।
गुणाश्रेय गुणमये नारायणि नमो स्तु ते।।

20- जीवन के पापो को नाश करने के लिए

हिनस्ति दैत्येजंसि स्वनेनापूर्य या जगत् ।
सा घण्टा पातु नो देवि पापेभ्यो नः सुतानिव॥

ये वो बीस विशेष मंत्र हैं जिनको सिद्ध कर आप सर्व बाधा मुक्त हो सकते हैं।

 

कमेंट करें
tq3Pv
NEXT STORY

साप्ताहिक राशिफल: कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक


मेष लग्नराशि (Aries):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ मेष राशि वालों को इस सप्ताह कार्यक्षेत्र अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। इस सप्ताह आपकी वाणी मधुर तथा लोगों को आकर्षित करेगी। पारिवारिक लोगों के साथ आप अच्छा समय व्यतीत करेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार संभव है। सेहत का ध्यान रखे आलस्य में वृद्धि हो सकती है। मानसिक नकारात्मकता बढ़ने से आप परेशान हो सकते है अतः इससे बचे। जीवनसाथी तथा प्रेमिका के साथ आपकी नजदीकियां बढ़ सकती है। सप्ताह का अंतिम भाग अचानक धन का लाभ दिला सकता है।     

वृषभ लग्नराशि (Taurus):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृषभ राशि वालों का जीवनसाथी के प्रति प्रेम बढ़ सकता है। पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति उत्पन्न हो सकती है अतः सतर्क बने रहे। इस सप्ताह आपको अपनी वाणी पर संयम बनाए रखने की जरूरत रहेगी। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह सामान्य बना रहेगा। व्यापारिक वर्ग को कुछ अच्छे लाभ मिलने के संकेत है। भाई बहनों से लाभ तथा सहयोग की प्राप्ति होगी। धार्मिक कार्यो के प्रति आपका रुझान अधिक बना रह सकता है। धन खर्च की अधिकता भी रहेगी। तनाव लेने से बचें।   

मिथुन लग्नराशि (Gemini) :➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मिथुन राशि वालों को सेहत से जुडी कुछ समस्याएं परेशान कर सकती है। बेसमय का खान पान आपको दिक्क्त दे सकता है अतः ध्यान रखें। कार्यो को लेकर मन में थोड़ी परेशानी बनी रह सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में सामंजस्य बना कर चले, अन्यथा दिक्कतें मिल सकती है। सप्ताह के मध्य का समय आपके लिए लाभकारी बना रहेगा। चल रही दिक्क्तों में आपको राहत मिल सकती है। धन का व्यय आपकी आर्थिक स्थिति को खराब कर सकता है।  

कर्क लग्नराशि (Cancer):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कर्क राशि वालों को शुरूआती दिनों में कोई मानसिक तथा शारीरिक कष्ट हो सकते है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरा समय व्यतीत होगा। जीवनसाथी की सेहत का ध्यान रखे। जीवनसाथी को चोट लगने की सम्भावना बन सकती है। आपको संतान से सुख तथा लाभ मिल सकता है। व्यापारी वर्ग के लिए सप्ताह चिंता भरा रह सकता है। इस सप्ताह आपको क्रोध तथा तनाव से दूर रहने की सलाह है। सप्ताह का अंतिम भाग आपके लिए अच्छा रहेगा कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है।    

सिंह लग्नराशि (Leo): ➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह सिंह राशि वालों को धन सम्बन्धी मामलों को लेकर चिंता बनी रह सकती है। सेहत को लेकर चल रही परेशानी में इस सप्ताह आपको राहत मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में आपके लिए सामान्य स्थिति बनी रहेगी। इस सप्ताह की शुरुआत में संतान से आपके मतभेद हो सकते है या उनकी सेहत परेशान कर सकती है। छात्र वर्ग के लोग आलस्य भरा सप्ताह व्यतीत करेंगे। पारिवारिक सदस्यों के साथ आपके सम्बन्ध अच्छे तथा मधुर बने रहेंगे। सप्ताह के अंतिम दिन कोई अच्छी खबर आपको प्रसन्न कर सकती है।  

कन्या लग्नराशि (Virgo):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कन्या राशि वालों को कार्यक्षेत्र में कार्य से सम्बंधित समस्या बनी रह सकती है। इस सप्ताह आप माता तथा संतान को लेकर परेशान हो सकते है। इस राशि से सम्बंधित गर्भवती महिलायें अपना ध्यान रखें। आपका पारिवारिक जीवन सामान्य रूप से व्यतीत होगा। जुए -सट्टे में आपको धन हानि होने की सम्भावना रहेगी। सेहत के लिहाज से सप्ताह  ठीक बना रहेगा। इस सप्ताह तनाव तथा चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है अतः बचे।  

तुला लग्नराशि (Libra):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह तुला राशि वालों की धर्म-कर्म में भागीदारी बढ़ सकती है। आप धार्मिक कथाओं में अधिक रूचि लेंगे। छोटे मोटे कार्यो को लेकर कार्यक्षेत्र में आपकी गतिविधि बनी रह सकती है। इस सप्ताह बुद्धि संबंधी चर्चाओं में आप भाग ले सकते है। सेहत के लिहाज से सप्ताह अच्छा बना हुआ है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सामंजस्य बना रहेगा तथा जीवनसाथी के साथ सम्बन्ध मधुर रहेंगे। सप्ताह के अंतिम भाग में अचानक धन का लाभ हो सकता है।

वृश्चिक लग्नराशि (Scorpio):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृश्चिक राशि वालों को मानसिक तथा शारीरिक तकलीफ परेशान कर सकती है। जीवनसाथी तथा बच्चों के साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते है। इस सप्ताह आप पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वाह अच्छी तरह से करेंगे। लेखन के कार्यो से जुड़े हुए जातको के लिए यह सप्ताह फलदायी साबित हो सकता है। प्रेमी वर्ग को अच्छे समाचार मिल सकते है। इस सप्ताह आप साफ़ सफाई पर अधिक ध्यान दे सकते है। छात्र वर्ग को यह सप्ताह  विशेष लाभ देने वाला रहेगा, विशेषकर उच्च शिक्षा वर्ग के छात्रों को।

धनु लग्नराशि (Sagittarius):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह धनु राशि वालों को अपने पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में संघर्ष करना पड़ सकता है। अपने निजी जीवन में अपने क्रोध तथा वाणी पर अंकुश रखना आपके लिए हितकारी सिद्ध होगा। सेहत को लेकर भी इस सप्ताह आप परेशान बने रह सकते है। आँखों तथा सिरदर्द की तकलीफ परेशान कर सकती है। धन सम्बन्धी मामलों को लेकर कुछ परेशानी हो सकती है। घरेलु सामग्री पर आपका धन का खर्च हो सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां सामान्य रहेगी।

मकर लग्नराशि (Capricorn):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मकर राशि वालों को संतान सुख मिलेगा। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह का मध्य भाग आपके लिए अच्छा रहेगा। सेहत से जुडी कोई समस्या इस सप्ताह आपको परेशान कर सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन सामान्य बना रहेगा। जीवनसाथी को इस सप्ताह अच्छे फल प्राप्त हो सकते है। वाहन चलाते समय सतर्कता बरतें। इस सप्ताह क़ानूनी नियमों का पालन करें अन्यथा कष्ट मिल सकते है। धन व्यय की अधिकता के चलते परेशान हो सकते है।    

कुंभ लग्नराशि (Aquarius):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कुंभ राशि वालों को आय से सम्बंधित मामलों में असफलता हाथ लग सकती है। आपकी सुविधाओं में वृद्धि होगी। आपका खान पान उच्च कोटि का रहेगा। आप पारिवारिक सदस्यों तथा मित्रों के साथ अधिक समय व्यतीत करेंगे। जीवनसाथी के साथ प्रेम भाव में वृद्धि होगी। अहंकार से दूर बने रहे उचित रहेगा। सेहत का ध्यान रखे चोट लग सकती है। छात्र वर्ग के लोग इस सप्ताह अपने जरुरी कार्य पूर्ण करने में आलस्य करेंगे। संतान से मतभेद संभव है।   

मीन लग्नराशि (Pisces):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह  मीन राशि वालों को अपनी दैनिक सुख सुविधाओं में कुछ कमी मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां गंभीर बनी रह सकती है। धन से जुड़े मामलों के लिए आपको अधिक परिश्रम करना पड़ेगा। छात्र वर्ग इस सप्ताह अपने सभी कार्य आने वाले कल पर टाल सकते है। संतान की सेहत का ध्यान रखे। सप्ताह के मध्य में आपको कोई छोटा धन का लाभ मिल सकता है। माता -पिता की सेहत का ध्यान रखे। इस सप्ताह आपके मान-सम्मान में वृद्धि हो सकती है। तनाव से खुद को दूर रखें।

Kalashantijyotish (कलाशांति ज्योतिष) 
Call: - +91-6261231618 
http://www.kalashantijyotish.com