दैनिक भास्कर हिंदी: छोटी दीपावली: इस पूजा से टलेगी अकाल मृत्यु, जानें शुभ मुहूर्त

November 13th, 2019

डिजिटल डेस्क। रोशनी का त्योहार दीपावली सिर्फ एक दिन दूर है, इससे पहले शनिवार 26 अक्टूबर को छोटी दिवाली का पर्व मनाया जा रहा है। इस दिन घरों में यमराज की पूजा की जाती है। छोटी दिवाली पर शाम के वक्त घर में दीपक लेकर घूमने के बाद उसे बाहर कहीं रख दिया जाता है। इस यम का दीपक कहा जाता है। इस दिन कुल 12 दीपक जलाए जाते हैं। 

शुभ मुहूर्त
प्रदोष काल: शाम 05:28 बजे से 08:10 बजे तक
पूजा अवधि (वृश्चिक लग्न): 07:30 बजे से 07:35 बजे तक
लाभ का चौघड़िया पूजा समय : 08:36 बजे से 
लाभ अमृत का मुहूर्त: सुबह 10:30 बजे से लेकर दोपहर 1:30 बजे तक 

मान्यता
मान्यता है कि छोटी दीपावली यानी कि नरक चतुर्दर्शी के दिन यमराज की पूजा करनी चाहिए। इस दिन पूजा और व्रत करने वाले को यमराज की विशेष कृपा भी मिलती है। माना जाता है कि यमराज के लिए तेल का दीपक जलाने से अकाल मृत्यु भी टल जाती है। 

मान्यता है कि ऐसा करने से घर के पूर्वज प्रसन्न होकर अपना आशीष घर के सभी सदस्यों पर बनाए रखते हैं। कहा जाता है इस दिन संध्या के समय दीप दान करने से नरक में मिलने वाली यातनाओं, सभी पाप सहित अकाल मृत्यु से मुक्ति मिलती है इसलिए भी नरक चतुर्दर्शी के दिन दीपदान और पूजा का विधान है।

इसके अलावा छोटी दिवाली सौन्दर्य प्राप्ति और आयु प्राप्ति का दिन भी माना जाता है। इस दिन आयु के देवता यमराज के सथ सौन्दर्य के प्रतीक शुक्र की उपासना की जाती है। इस दिन श्रीकृष्ण की उपासना भी की जाती है क्योंकि इसी दिन उन्होंने नरकासुर का वध किया था।