दैनिक भास्कर हिंदी: गणेश उत्सव विशेष: वेदव्यास बोलते गए और एकदंत ने शब्दशः लिखी महाभारत

September 5th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लंबोदर की ढेरों लीलाओं में एक ये भी शामिल है। इसका उल्लेख शास्त्रों में भी मिलता है, लेकिन क्या आपको पता है महाभारत और गजानन का भी गहरा नाता है। कहा जाता है कि जिस स्थान (कुरुक्षेत्र) पर युद्ध हुआ था, वह रक्त से लाल हो गई थी और अब भी वहां की मिट्टी लाल है। आज हम आपको महाभारत और गजानन के इसी रहस्य के बारे में बताने जा रहे हैं।

महाभारत में ऐसा वर्णन आता है कि वेदव्यास जी ने हिमालय की तलहटी की एक पवित्र गुफा में तपस्या में लीन होकर महाभारत की घटनाओं का आदि से अन्त तक स्मरण कर मन ही मन में महाभारत की रचना कर ली थी परन्तु इसके पश्चात उनके सामने एक गंभीर समस्या आ गई। वह थी इसका लाभ जनसाधरण को देने की।