महा शिवरात्रि 2022: भगवान भोलेनाथ की पूजा में इन बातों का रखें ध्यान

March 1st, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। हर शिव भक्त को महाशिवरात्रि का बेसब्री से इंतज़ार रहता है। हिंदू पंचांग के अनुसार फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को महाशिवरात्रि मनाई जाती हैं। इस साल महाशिवरात्रि मंगलवार, 01 मार्च 2022 यानी कि मंगलवार को मनाई जा रही है। महाशिवरात्रि के दिन सभी भक्त व्रत रखते हैं। ऐसा माना जाता है कि महाशिवरात्रि पर भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था। ऐसे में इस दिन भक्त एक अच्छे वैवाहिक जीवन की कामना करते हैं।  

इस दिन भक्त शिवजी को प्रसन्न करने के लिए पूरे विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना करते हैं। हालांकि कुछ लोगों का मानना है कि पूरे विधि-विधान के साथ पूजा करने के बावजूद उन्हें इसका फल नहीं मिलता। बता दें कि अकसर लोग पूजा के समय ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिसके वजह से उन्हें अपनी पूजा का पूरा फल नहीं मिल पाता। खासतौर पर तब जब वे शिवलिंग की पूजा करते हैं। आईए जानते है शिवजी की या शिवलिंग की पूजा के दौरान क्या नहीं करना चाहिए।

शिवरात्रि 2022: जानें रुद्राक्ष का भगवान शिव से संबंध और इसके लाभ

क्या करें क्या ना करें
1.अकसर देखा गया है कि लोग घरों में पूजा करते समय अनजाने में तुलसी तोड़कर शिवलिंग पर चढ़ा देते हैं। बता दें कि तुलसी के पत्तों को शिवलिंग पर नहीं चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने से पूजा फल नहीं मिलता है।
2.कितनी ही बड़ी पूजा क्यों ना हो नारियल का इस्तेमाल हर जगह किया जाता है। इसलिए अकसर लोग अनजाने में नारियल चढ़ा देते हैं। नारियल देवी लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है और लक्ष्मी का संबंध भगवान विष्णु से है। शिवलिंग पर भूलकर भी नारियल का जल या नारियल का उपयोग नहीं करना चाहिए।
3.शिवपुराण के अनुसार भगवान शिव की पूजा में केतकी के फूल का प्रयोग नहीं किया जाता। केतकी को मिले श्राप के कारण उसे शिवलिंग पर भी नहीं चढ़ाया जाता है।