comScore

होम आइसोलेट हिना खान हुई लाचार! कहा- जब मेरी मां को जरूरत है, तब मैं साथ नहीं हूं

होम आइसोलेट हिना खान हुई लाचार! कहा- जब मेरी मां को जरूरत है, तब मैं साथ नहीं हूं

डिजिटल डेस्क,मुंबई। कोरोना की दूसरी लहर ने सब कुछ तबाह कर दिया है। चारों तरफ बस बर्बादी का मंजर है। इस बीच एक्ट्रेस हिना खान ने भी अपने पिता को खो दिया। उनके पिता की मौत 20 अप्रैल को हार्ट अटैक आने से हो गई थी, जिसके कुछ दिनों बाद एक्ट्रेस की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गई और उन्होंने खुद को अपनी मां से दूर होम आइसोलेट कर दिया। इतने कठिन समय में हिना ने अपनी मां से दूर होने पर एक इमोशनल नोट शेयर किया। एक्ट्रेस ने लिखा- एक लाचार बेटी, जो अपनी मां को सहारा देने के लिए उनके साथ भी नहीं रह सकती, जब उन्हें सबसे ज्यादा जरूरत है। 

हिना का पोस्ट

  • हिना ने अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है।
  • इस तस्वीर में वो खिड़की से बाहर की ओर देखते हुए अपने बिस्तर पर बैठी नजर आ रही है।
  • इस फोटो को शेयर करते हुए एक्ट्रेस ने अपनी मां से दूर होने का दर्द बयां किया।
  • हिना ने लिखा-'एक लाचार बेटी, जो अपनी मां को सहारा देने के लिए उनके साथ भी नहीं रह सकती, जब उन्हें सबसे ज्यादा जरूरत है। दोस्तों, ये समय बहुत कठिन है, सिर्फ हमारे लिए नहीं बल्कि आसपास के हर व्यक्ति के लिए। लेकिन कहा जाता है, बुरा वक्त ज्यादा समय तक नहीं रहता, लेकिन हिम्मत वाले लोग हमेशा रहते हैं, और मैं हमेशा से अपने पिता की स्ट्रॉन्ग गर्ल थी, हूं और हमेशा रहूंगी। अपनी दुआ भेजते रहिए प्लीज'।
  • बता दें कि, पिता की मौत के बाद से ही हिना खान ने ऐलान कर दिया था कि, वो अब सोशल मीडिया से ब्रेक ले रही है। इसलिए उनके सारे सोशल मीडिया अकाउंट्स उनकी टीम हैंडल करेगी।
कमेंट करें
sIPkm
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।