comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

सोने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली इस चीज से नेहा कक्कड़ ने बनाई ड्रेस, यूजर बोले- कोई और ऑपशन नहीं मिला...देखें वीडियो 

April 22nd, 2020 15:30 IST
सोने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली इस चीज से नेहा कक्कड़ ने बनाई ड्रेस, यूजर बोले- कोई और ऑपशन नहीं मिला...देखें वीडियो 

हाईलाइट

  • एक बार फिर हुई नेहा कक्कड़ ट्रोल
  • कपड़ो को लेकर बोले फैंस - 'इतनी गरीबी'
  • तकिए की ड्रेस पहनकर बनाया वीडियो, देखें

डिजिटल डेस्क, मुबंई। कोरोनावाायरस (Coronavirus) के बीच लगे लॉकडाउन (Lockdown) के तहत सबसे ज्यादा लोग सोशल मीडिया (Social Media) पर अपना वक्त बिता रहे है और ऐसे में काफी लोगों को बहुत फायदा भी हो रहा है, खासकर बी-टाउन सिलेब्स (B-town Celebs) को। आपको बता दें कि इस लॉकडाउन के बीच हर कोई फ्री है और सोशल मीडिया पर बॉलीवुड सितारें (Bollywood stra) आए दिन अपने तरीके से लोगों को इंटरटेन (Entertain) कर रहे हैं। जिसके वजह से उनके फोलोअर्स बढ़ रहे हैं। 

सोशल मीडिया पर चैलेंजस का दौर
इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर हमेशा की तरह एक बार फिर कोरोना के बीच चैलेंजस (Challenges) का दौर चालू हो गया है। हाल ही में हमने आपको एक खबर बताई थी जिसमें पिलो चैलेंज (Pillow challenge) के बारे में बात की गई थी। अब इस चैलेंज का असर बी-टाउन (B-town) पर दिखना भी शुरू हो गया है। नीचे पड़ें-

लड़कों ने तकिए के साथ किया कुछ ऐसा, देख कर रह जाएंगे आप दंग

अकेली होने पर लड़कियां घर पर करती है ये काम, जानकर रह जाएंगे आप भी हैरान

क्या है पिलो चैलेंज? 
सबसे पहले तो हम आपको इस चैलेंज का मतलब बता दें। पिलो चैलेंज में आपको एक पिलो लेना है और उसे ड्रेस के तरह पहनना है। ये चैलेंज हाल ही में बी-टाउन की फैमस सिंगर नेहा कक्कड़ (Neha Kakkar) ने भी किया है। लेकिन जैसा कि होता आया है, इस बार भी नेहा बहुत बुरी तरह ट्रोल (Troll) हो गईं है। दरअसल नेहा ने पिलो चैलेंज का एक वीडियो (Video) बनाया है जिसमें वो एक के बाद एक पिलो पहन कर वीडियो में शो कर रही हैं। 

नेहा को मिले 46 लाख से ज्यादा लाईक
हालांकि इस वीडियो को अब तक 46 लाख 80 हजार लोगों से भी ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं। बावजूद इसके नेहा ट्रोल हो गई हैं। खैर ये पहली बार नहीं है नेहा कक्कड़ के साथ ऐसा होता रहता है। नेहा दो ही चीजों के लिए छाई रहती हैं। एक तो ट्रोल होने के लिए तो दूसरा सुर्खियां बटोर ने के लिए।

अदा शर्मा का हॉट अवतार, बिकनी पहनकर बुलाया इस शख्स को अपनी खिड़की पर...देखें तस्वीरें और वीडियो

सुर्खियों में रहती है नेहा कक्कड़
बता दें कि नेहा ने हाल ही में एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री (Bollywood Film Industry) का एक कड़वा सच उजागर किया था। नेहा ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि बॉलीवुड में सिंगर्स को गाने के खास पैसे नहीं मिलते हैं, इससे ज्यादा तो हम सिंगर्स लाइव कॉन्सर्ट्स (Live Concerts) और इवेंट्स (Events) करके कमा लेते हैं। इस बयान के चलते नेहा ने काफी सुर्खिया बटोरी थीं।

पिलो चैलेंज के वजह से हुईं ट्रोल
लेकिन अब उनके इस पिलो चैलेंज के चलते वो ट्रोल होना शुरू हो गई हैं। बता दें कि नेहा कक्कड़ काफी इमोशनल पर्सन है और वो काफी जल्दी छोटी छोटी बातों को लेकर रो पड़ती हैं। 

जितने फोलोअर्स नहीं उससे ज्यादा मिले लाइक 
नेहा कक्कड़ सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती है और इस बात का साबुत है कि तने कम समय में उनके इंस्टाग्राम (Instagram) पर 36.4M (36 लाख 40 हजार) फोलोअर्स हैं। उससे भी बड़ी बात ये है कि जिस वीडियो को लेकर नेहा कक्कड़ ट्रोल हो रही हैं उस वीडियो पर नेहा के फोलोअर्स से ज्यादा लाइक हैं यानी की 46 लाख से ज्यादा। अब इसे ट्रोल होना कहें या पॉपुलर होना।

एक्स एडल्ट पोर्नस्टार मिया खलीफा ने की बॉयफ्रेंड के साथ शादी! जानें कैसे हुआ खुलासा

एक बार फिर कंगना राणावत का बेबाक अंदाज आया सामने, बहन के समर्थन में बोलीं- केंद्र सरकार से की ये अपीलें...

सोशल मीडिया पर रहती है एक्टिव
वो कहते हैं ना बदनाम हुआ तो क्या हुआ नाम तो हुआ। ऐसा ही कुछ नेहा कक्कड़ के साथ होता है। हर बार ट्रोल होने के बावजूद वो दोगुना ज्यादा पॉपुलर हो जाती हैं।

पर्सन लाइफ को लेकर रहती है चर्चा में
नेहा कक्कड़ की पर्सनल लाइफ (Personal Life) को लेकर हमेशा बाते होती रहती है। जब वो हिमांशु कोहली (Himanshu Kohli) के साथ रिलेशनशिप में आईं थी तब भी काफी बातें हुई। इसके बाद दोनों के ब्रैकअप के बाद नेहा टूट सी गईं थी।

इंडियन आइडल (Indian Idol) के सेट पर नेहा भावुक होकर रो पड़ी थी।

हालांकि नेहा को उसी सेट पर आदित्य नारायण (Aditya Narayan) मिलें जिनसे उनकी शादी और रिलेशन के काफी चर्चे रहे। 

नेहा कक्कड़ एक बड़ा नाम है उनका हर गाना हिट से सुपरहिट (Superhit) रहता है। ऐसा कोई सिंगर (Singer) नहीं है जो उनके साथ काम नहीं करना चाहता। 

कभी साथ काम कर चुके अक्षय कुमार और विद्या बालन के बीच हुई थी आखिरी फिल्म के दौरान हाथापाई, देंखे वीडियो

कमेंट करें
ifYHj
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।