दैनिक भास्कर हिंदी: सौमित्र चटर्जी के निधन से फिल्म बिरादरी में पसरा शोक

November 15th, 2020

हाईलाइट

  • सौमित्र चटर्जी के निधन से फिल्म बिरादरी में पसरा शोक

मुंबई, 15 नवंबर (आईएएनएस)। भारतीय फिल्म बिरादरी की कई हस्तियों ने बांग्ला सिनेमा के वरिष्ठ अभिनेता सौमित्र चटर्जी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। उनका रविवार को 85 वर्ष की आयु में निधन हो गया।

दादासाहेब फाल्के विजेता अभिनेता के निधन की पुष्टि कोलकाता के बेले व्यू अस्पताल के एक बुलेटिन द्वारा की गई।

अस्पताल के बुलेटिन में कहा गया, हम भारी मन से घोषणा करते हैं कि श्री सौमित्र चटर्जी ने बेले व्यू क्लिनिक में आज (15 नवंबर 2020) दोपहर 12.15 बजे अंतिम सांस ली। हम उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

उनके निधन के कुछ समय बाद सिनेमा के मशहूर हस्तियों ने सोशल मीडिया पर दुख व्यक्त किया।

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता मनोज बाजपेयी ने चट्टोपाध्याय की मौत को दुखद नुकसान कहा।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, दुखद नुकसान, आपकी आत्मा को शांति मिले सर। भारतीय सिनेमा में आपके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा और आने वाली पीढ़ियों प्रेरित होंगी।

अभिनेत्री सोहा अली खान ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर अपनी मां शर्मिला टैगोर के साथ दिवंगत दिग्गज की दो तस्वीरें पोस्ट कीं। चटर्जी और शर्मिला टैगोर ने एक साथ ओपू संसार, अरानेर दिन रात्रि, देवी और बरनाली जैसी फिल्मों में काम किया था।

सोहा ने लिखा, हम आपको याद करेंगे।

अभिनेत्री सयानी गुप्ता ने लिखा, सौमित्र चटर्जी, फेलुदा, हमें छोड़कर चले गए। निशब्द। एक युग, एक पीढ़ी, एक विशाल विरासत चली गई। सिल्वर स्क्रीन को 70 साल दिए। अब स्वर्ग में।

अभिनेत्री तिलोत्तमा शोम ने लिखा, अलविदा। सौमित्र दा। सिनेमा के 61 साल। उपहार के लिए धन्यवाद। आपके परिवार के प्रति गहरी संवेदना। इस पल के लिए हमेशा आभारी।

फिल्मकार ओनिर ने ट्वीट में कहा, बंगाली सिनेमा के लिए एक युग का अंत। इस अद्भुत कलाकारों के बहुत सारे प्रदर्शन हैं जिन्होंने दशकों से हमारे जीवन को समृद्ध किया है। वल्र्ड सिनेमा अनंत काल तक इस प्यारे इंसान को याद रखेगा।

अभिनेता राहुल बोस ने कहा, 15 पार्क एवेन्यू में उनके साथ काम करना वास्तविक अनुभव था। उन्होंने मेरे सभी सवालों के जवाब दिए कि कैसे सत्यजीत रे के साथ उदारता और गर्मजोशी के साथ उन्होंने काम किया था। यह एक विशेषाधिकार रहा है, सौमित्र दा। आपकी आत्मा को शांति मिले।

फिल्मकार मधुर भंडारकर ने लिखा, पद्म भूषण पुरस्कार विजेता सौमित्र चटर्जी के निधन के बारे में जानकर दुख हुआ, फिल्म ट्रैफिक सिग्नल के लिए 54वें राष्ट्रीय पुरस्कार समारोह के दौरान मृदुभाषी अभिनेता के साथ मेरी बातचीत को हमेशा याद रखूंगा, वह बहुत उत्साहजनक और प्रेरणादायक थे। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना।

अभिनेता रणवीर शौरी ने लिखा, आत्मा को शांति मिले। श्रद्धांजलि।

अभिनेत्री पायल घोष ने लिखा, एक प्रतिष्ठित युग का अंत। बंगाली फिल्म उद्योग ने आज अपनी सबसे बड़ी जीवित किंवदंती में से एक को खो दिया। उनकी आत्मा को शांति मिली। रेस्ट इन पीस।

एमएनएस/आरएचए