दैनिक भास्कर हिंदी: TikTok पर कार्रवाई: अमेरिका ने सरकारी उपक्रमों में एप के इस्तेमाल पर लगाया बैन

August 7th, 2020

हाईलाइट

  • टिकटॉक को 15 सितंबर तक अमेरिका में अपना कारोबार बेचने का कह चुके हैं ट्रंप
  • सुरक्षा कारणों से टिकटॉक पर भारत में पहले ही बैन लगा दिया गया है

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिकी सीनेट ने सर्वसम्मति से संघीय कर्मचारियों को सरकार की ओर से दिए गए उपकरणों पर टिकटॉक एप (TikTok App) का उपयोग करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह प्रतिबंध उस विधेयक को मंजूरी मिलने के बाद लगाया गया है, जिस पर गुरुवार को सीनेट में मतदान कराया गया। व्हाइट हाउस ने टिकटॉक एप को सुरक्षा कारणों से खतरा बताया है। बता दें कि टिकटॉक पर भारत में पहले ही बैन लगा दिया गया है। 

चीनी एप टिकटॉक को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 4 अगस्त को चेतावनी भरे स्वर में कहा था कि टिकटॉक 15 सितंबर तक अमेरिका में अपना कारोबार बेच दे या फिर बंद कर दें। उन्होंने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट का टिकटॉक को खरीदने का विचार ठीक है, जैसा कि कंपनी इस बारे में बात कर रही है और इस डील का कुछ हिस्सा अमेरिका को देना होगा। इसके पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मीडिया से बातचीत में कहा था कि वह टिकटॉक को अमेरिका में बैन करने पर विचार कर रहे हैं।

अमेरिका में टिकटॉक के कारोबार पर नजर
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट अमेरिका में टिकटॉक के कारोबार के अधिग्रहण पर विचार कर रहा है। चीनी कंपनी बाइटडांस के प्रोडक्ट टिकटॉक पर लगातार चीन सरकार से यूजर्स का डेटा शेयर करने का आरोप लगता रहा है। ऐसे में अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट के अधिग्रहण से कंपनी संभावित प्रतिबंध से बचने की उम्मीद कर सकती है। हालांकि, अभी तक दोनों कंपनियों की ओर से इस पर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है और वो इस मुद्दे पर बात करने से इंकार कर रहे हैं।

टिकटॉक को जारी किया नोटिस
माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने अपने बयान में कहा था कि उनका अमेरिका में टिकटॉक से साथ डील पूरी करने का लक्ष्य था साथ ही कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलेंड में भी और डील 15 सितंबर तक पूरी होने की उम्मीद है। इस बारे में टिकटॉक को नोटिस भी जारी किया गया है।

टिकटॉक पर भारत में पहले ही बैन लगा दिया गया है
भारत-चीन के बीच जारी तनाव के बीच भारत सरकार ने हाल ही में वीडियो ऐप टिकटॉक समेत चीन के 59 एप्स पर बैन (59 Chinese Apps Ban In India) लगा दिया। भारत सरकार द्वारा जिन ऐप्स पर बैन लगााय गया है, उनमें शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप टिकॉटाक (TikTok Ban In India) पर मालिकाना हक रखने वाली चीनी कंपनी बाइटडांस लिमिटेड के तीन ऐप शामिल हैं। इन ऐप्स पर बैन लगाए जाने के बाद कंपनी को 6 अरब डॉलर से ज्यादा का नुकसान होने का अनुमान जताया जा रहा है। चाइनीज मीडिया ऑर्गनाइजेशन ग्लोबल टाइम्स की ओर से जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में टिकटॉक बैन के बाद बाइटडांस को 6 अरब डॉलर से ज्यादा का नुकसान हुआ है। 

खबरें और भी हैं...