दैनिक भास्कर हिंदी: मिस्र के मौलवी का ऐलान 'अपनी ही बेटी से सेक्स और शादी कर सकते हैं पुरुष'

November 5th, 2017

डिजिटल डेस्क, काहिरा। मिस्र के जाने-माने मौलवी ने हाल ही में इस्लाम मानने वाले मर्दों को लेकर एक हैरान कर देने वाली बात कही। इस्लामिक स्कॉलर इमाम अल-शफी का कहना है कि इस्लाम मर्दों को अपनी नाजायज बेटी के साथ सेक्स और शादी करने की इजाजत देता है। इसके पीछे उन्होनें तर्क दिया कि चूंकि नाजायज बेटियों का पिता से कोई आधिकारिक संबंध नहीं होता तो वो पिता अपनी 'नाजायज' बेटी से शारीरिक संबंध बनाने के साथ-साथ उससे शादी भी कर सकता है। मौलवी इमाम अल-शफी ने ये बयान एक वीडियो के जरिए दिया जो इन दिनों खूब वायरल हो रहा है और लोग इस बात पर उनकी खूब आलोचना भी कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मिस्र के मशहूर मौलवी इमाम अल-शफी का ये वीडियो मिस्र के अल-अजहर यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाले अल-सेरसावी ने अपने अकाउंट पर शेयर किया है, इमाम अल-शफी का मानना है कि अगर कोई लड़की नाजायज रिश्तों से पैदा हुई है तो पिता उस लड़की के साथ शारीरिक संबंध बना सकता है, और चाहे तो शादी भी कर सकता है। क्योंकि सच में वो उसकी बेटी नहीं है, उस लड़की का नाम पिता से जब तक नहीं जुड़ता तब तक वो उसकी बेटी नहीं मानी जाती। तो शरिया के मुताबिक जो आपकी बेटी नहीं उससे आप चाहें जो संबंध रख सकते हैं। इंटरनेट पर मौलवी इमाम के इस बयान पर उनकी आलोचना की जा रही है। 

'पैदा होते ही कर सकते हैं लड़की की शादी'

ये कोई पहला मामला नहीं जब इस तरह की कोई बात सामने आयी हो, इसके पहले भी मिस्र के एक मौलवी ने एक बयान में कहा था कि शरिया में लड़कियों की शादी की उम्र तय नहीं की गई है तो आप उनके पैदा होती ही उनकी शादी कर सकते हैं।

कम कपड़ो वाली लड़की का 'रेप' करना देशभक्ति है

इसके साथ मिस्र के एक वकील ने एक डिबेट में कहा कि अगर लड़की छोटे कपड़ों में तो उसा रेप करना देशभक्ति का सबूत है। वकील का नाम नबीह अल-वाहश बताया जा रहा है, जिन्होनें टीवी चैनल पर डिबेट के दौरान ये बात कही।