अफगानिस्तान: ईदगाह में विस्फोट के बाद तालिबान और इस्लामिक स्टेट-खुरासन के बीच भीषण जंग

October 4th, 2021

हाईलाइट

  • ईदगाह में विस्फोट के बाद तालिबान और इस्लामिक स्टेट-खुरासन के बीच भीषण जंग

डिजिटल डेस्क, काबुल। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद की मां के सुपर्द-ए-खाक की नमाज के दौरान काबुल ईदगाह में हुए आत्मघाती हमले के महज कुछ ही घंटे के बाद रविवार देर रात को तालिबान मिलिशिया की राजधानी के एक उपनगर में इस्लामिक स्टेट-खुरासन के लड़ाकों के साथ भीषण लडाई हो गयी। तालिबान मिलिशिया ने कथित तौर पर काबुल के उत्तरी पुलिस जिला 17 खैर खाना में अपना अभियान चलाया। उनका मकसद आईएसआईएस खुरासन के सुरक्षित ठिकाने पर धावा बोल उनका पूरी तरह से खात्मा करना है।

खामा समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय निवासियों ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच हल्क और भारी हथियारों का उपयोग कर जमकर गोलीबारी हुई और इस दौरान दो बार विस्फोट होने की भी सूचना मिली है। तालिबान के सूत्रों ने बताया कि उन्होंने पीडी17 में अपना एक अभियान चलाया, ताकि आईएसआईएस-खुरासन के ठिकाने को नष्ट किया जा सके। सोशल मीडिया पर इस हमले की तस्वीरें वायरल हुई है जिसमें आसमान में आग की लपटें उठते हुए दिखाई दी हैं।

इस हमले में अभी तक कम से कम तीन लोगों की मौत हो चुकी है। गौरतलब है कि ईदगाह में हुए आत्मघाती हमले में कथित तौर पर 10 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और 20 से अधिक घायल हो गए हैं। अब तक हालांकि किसी ने भी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। मुजाहिद ने ट्विटर पर कहा, ‘‘पिछली रात को इस्लामिक अमीरात के मुजाहिदीन की एक विशेष इकाई ने काबुल के 17वें निर्वाचन क्षेत्र में आईएसआईएस के लडाकों के खिलाफ एक अभियान चलाया, जिसमें आईएसआईएस सेंटर पूरी तरह से नष्ट हो चुके हैं और आईएसआईएस के मौजूद सभी सदस्य पूरी तरह से मार गिराया गया हैं। यह अभियान पूरी तरह से सफल रहा।

वार्ता
 

खबरें और भी हैं...