दैनिक भास्कर हिंदी: PAK के पूर्व राजनयिक बोले- पाकिस्तान के लिए खतरा है आतंकवाद, नहीं समझ रही सरकार

December 17th, 2018

हाईलाइट

  • अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक रहे हुसैन हक्कानी ने दिखाया पाक को आईना।
  • हक्कानी ने कहा- आतंकवाद पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ा खतरा है लेकिन सरकार इसे नजरअंदाज कर रही है।
  • हक्कानी ने पाकिस्तान के अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग पड़ने को भी एक बड़ा खतरा बताया।

डिजिटल डेस्क, वाशिंगटन। अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक रहे हुसैन हक्कानी ने आतंकवाद को अपने देश के लिए एक बड़ा खतरा बताया है। उन्होंने कहा है कि आतंकवाद देश के लिए एक बड़ा खतरा है लेकिन सरकार और प्रशासन इसे नजरअंदाज कर रही है। उन्होंने साथ ही दुनिया में पाकिस्तान के अलग-थलग पड़ने को भी एक बड़ा खतरा बताया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद और दुनिया में अलग-थलग पड़ना ही पाकिस्तान के लिए वास्तिवक खतरा है, और इसे समझने की जरूरत है।

हक्कानी ने ये बातें वाशिंगटन में आयोजित एक सेमिनार में कही। इस सेमिनार का टाइटल 'चुनाव के बाद पाकिस्तान' था। इस विषय पर सेमिनार में अपने विचार साझा करते हुए हक्कानी ने कहा, 'विचारों में मतभेद होना पाकिस्तान के लिए इतना बड़ा खतरा नहीं है, समस्या यह है कि इस्लामाबाद में शासन और प्रशासन वास्तविक खतरे को नजरअंदाज करता रहा है।'

हक्कानी ने इस दौरान यह भी कहा कि पाकिस्तान में विभिन्न विचारधाराओं के शक्तिशाली दमन से आर्थिक संकट हल नहीं होने वाला। इसके लिए आर्थिक ढांचे पर बड़े सुधार की जरूरत है। उन्होंने यह भी कहा कि विभिन्न विचारों के दमन से पाकिस्तान की उन कोशिशों को भी झटका लगता है जो वह दुनिया में एक सकारात्मक छवि बनाने के लिए कर रहा है। हक्कानी ने कहा, 'देश की सकारात्मकर छवि बनाने के लिए जरूरी है कि पाकिस्तान आतंकवाद, बाहरी निर्भरता और लोकतंत्र में कमियों से मुक्त हो।'