comScore

अमेरिका में भी छाए भगवान राम: न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर दिखी भगवान राम और मंदिर का प्रस्तावित मॉडल 


हाईलाइट

  • टाइम्स स्कवायर की सबसे हाई रिजोल्यूशन की एलईडी स्क्रीन हुआ डिस्प्ले
  • प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को किया अयोध्या में राम मंदिर का भूमिपूजन

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अयोध्या में भगनवान राम के मंदिर निर्माण की गूंज दुनियाभर में दिखाई दे रही है। बुधवार को धर्मनगरी अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भूमि पूजन करने के बाद देश-दुनिया से लोगों ने अपनी खुशी जाहिर की। अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित फेमस टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर राम मंदिर का मॉडल और श्री राम की तस्वीर हाई रिजोल्यूशन वाली एलईडी स्क्रीन पर दिखाई गई। इस ऐतिहासिक दिन को यादगार बनाने के लिए न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर में ये प्रोग्राम किया गया। इस तस्वीर में दाहिने तरफ ऊपर में भारत का तिरंगा झंडा भी लगा था।

टाइम्स स्क्वायर में इस भव्य नजारे को देखकर लोग जय श्रीराम के नारे लगा रहे थे। टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम और मंदिर के मॉडल के अलावा भारत का झंडा भी डिस्प्ले हो रहा था।

ये मानव समाज के लिए भी बड़ा अवसर
इस मौके पर अमेरिकन इंडियन पब्लिक अफेयर कमेटी के अध्यक्ष जगदीश सेवहानी ने कहा कि दुनिया की सबसे प्रसिद्ध स्क्रीन पर हमारा राम मंदिर और तिरंगा दिखाया गया। यह अमेरिका में भारतीयों की सफलता को दर्शाता है। इससे पहले उन्होंने कहा था कि यह जीवन में एक बार या सदी में एक बार होने वाली घटना नही हैं। बल्कि, पूरी मानव जाति के जीवन में इस तरह के मौके एक ही बार आते हैं। इस मौके को खास बनाने के लिए हमने टाइम्स स्क्वायर को चुना।

बुधवार दोपहर में हुआ भूमिपूजन
बता दें कि बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन कार्यक्रम में यजमान की भूमिका निभाई और मंदिर की नींव रखी। इसके बाद उन्होंने कहा कि राम सबके हैं, राम सब में हैं। पीएम ने कहा कि  कहा, आज श्रीराम का जयघोष सिर्फ सिया-राम की धरती में ही नहीं सुनाई दे रहा, इसकी गूंज पूरे विश्व में है। सभी देशवासियों को, विश्व में फैले करोड़ों राम भक्तों को बधाई। राम हमारे मन में गढ़े हुए हैं, हमारे भीतर घुल-मिल गए हैं। कोई काम करना हो, तो प्रेरणा के लिए हम भगवान राम की ओर ही देखते हैं। पीएम ने कहा, भगवान राम भारत की मर्यादा हैं। अब उनका यह मंदिर हमारी संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा।

कमेंट करें
Ilop4