इमरान खान के इस्लामाबाद कोर्ट पहुंचने के बाद खान समर्थकों और पुलिस में हुई झड़प, लौहार स्थित खान के आवास पर चले बुलडोजर

Imran Khans convoy met with an accident, Imran narrowly escaped
इमरान खान के इस्लामाबाद कोर्ट पहुंचने के बाद खान समर्थकों और पुलिस में हुई झड़प, लौहार स्थित खान के आवास पर चले बुलडोजर
इमरान की मुश्किलें बढ़ी इमरान खान के इस्लामाबाद कोर्ट पहुंचने के बाद खान समर्थकों और पुलिस में हुई झड़प, लौहार स्थित खान के आवास पर चले बुलडोजर
हाईलाइट
  • मेरी गिरफ्तारी लंदन प्लान का हिस्सा- इमरान खान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। तोशाखाना मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की आज इस्लामाबाद कोर्ट में पेशी हुई। इस दौरान इमरान समर्थकों ने पुलिस में झड़प देखने को मिला। हंगामे को बढ़ता देख जज ने कहा कि ऐसे माहौल में केस की सुनवाई नहीं हो सकती है। माहौल बिगड़ता देख जज ने इमरान को हाजिरी लगाने के बाद वापस जाने की इजाजत दे दी। अब रविवार को मामले में अगली सुनवाई होगी।

इधर जब इमरान इस्लामाबाद के निकले तब उनके लाहौर स्थित जमान पार्क आवास पर पुलिस ने रेड की। इस दौरान पुलिस बुल्डोजर से गेट तोड़कर इमरान के घर में दाखिल हो गई। करीब ढाई घंटे की छानबीन के बाद पुलिस वापस लौट गई।

 आज बाल-बाल बचे इमरान खान

तोशाखाना मामले में लाहौर से इस्लामाबाद जा रहे पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के काफिले की गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया है। जानकारी के मुताबिक काफिले में चल रही एक गाड़ी अचानक बेकाबू होकर दूसरी गाड़ी से टकरा गई। हादसे में एक गाड़ी पूरी तरह से पलट गई। जिसके बाद सड़क पर लंबा जाम लग गया। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। हालांकि पूर्व पीएम इमरान खान हादसे वाली दोनों गाड़ियों में मौजूद नहीं थे। जिससे एक बड़ा हादसा होने से टल गया।  

खबर है कि इस एक्सीडेंट में तीन लोग घायल हुए है। इमरान खान इस हादसे में बाल-बाल बचे हैं और अब वह इस्लामाबाद की ओर जा रहे हैं। इस्लामाबाद अदालत में तोशाखाना मामले में उनकी सुनवाई होनी है। इस बीच इमरान खान ने एक वीडियो जारी कर कहा कि कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी शहबाज सरकार उन्हें इस्लामाबाद में गिरफ्तार करना चाहती है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से पुलिस तोशाखाना मामले में पूर्व पीएम इमरान खान को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है, लेकिन इमरान खान किसी न किसी तरीके से बच निकलते हैं। 

क्या है तोशाखाना?

दरअसल, तोशाखाना पाकिस्तान का एक बेशकीमती कमरा है। जहां पर महंगी चीजों को रखा जाता है। पाक का कोई भी पीएम अगर विदेशों में अपने देश को रिप्रजेंट करने जाता है तो उसे वहां मिलने वाली कोई भी गिफ्ट इसी कमरे में जमा कराना पड़ता है। पाकिस्तान कानून के मुताबिक, पाकिस्तान के पीएम को किसी भी तरह की कोई भी कीमती चीज मिलती है तो वो उसकी निजी वस्तु में नहीं गिनी जाती है बल्कि वो राष्ट्र की संपत्ति मानी जाती है। अगर पीएम उस वस्तु को अपने पास रखना चाहते हैं तो उसे खरीद सकते हैं, बशर्ते उसका उचित दाम देकर। लेकिन इस पूरे मामले में इमरान खान पर तोहफों में धांधली करने का आरोप लगा है। जिसकी वजह से इमरान खान पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।

साल 2018 में इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर यूरोप और अरब देशों की यात्रा पर गए थे। इस दौरान इमरान खान को बहुत सारे कीमती तोहफे मिले थे। इमरान खान पर आरोप हैं कि उन्होंने बहुत से गिफ्ट्स को डिक्लेयर नहीं किया है। साथ ही उन पर कई तोहफों को असल दाम से काफी कम कीमत पर खरीदने और उन तोहफों को बाहर जाकर बड़ी कीमत पर बेचने के भी आरोप लगे हैं।

मेरी गिरफ्तारी लंदन प्लान का हिस्सा

इस्मालाबाद जाते हुए इमरान खान ने एक वीडियो जारी कर कहा कि मेरे इस्मालाबाद पहुंचने पर वे मुझे गिरफ्तार कर लेंगे। पता नहीं ये किस कानून के तहत ऐसा कर रहे हैं? मैं जानता हूं कि ये सारे काम लंदन प्लान के तहत किए जा रहे हैं। साथ ही उन्होंने दावा किया कि मेरी गिरफ्तारी नवाज शरीफ के कहने पर हो रही है। इमरान खान ने कहा, 'मैं इस्लामाबाद कोर्ट जा रहा था। तब पंजाब पुलिस ने जमान पार्क स्थित मेरे घर पर हमला किया गया है, जहां बुशरा बेगम अकेली थी। मैं जानता हूं कि यह सब लंदन प्लान का हिस्सा है। ये लोग मुझे आम चुनाव लड़ने नहीं देना चाहते हैं। अब यह सभी लोग पूरी तरह से बेनकाब हो गए हैं।'

साथ ही इमरान ने एक ट्वीट कर कहा कि मेरे पेशी में आने के बीच पंजाब पुलिस ने जमान पार्क में मेरे घर पर हमला कर दिया है, मैं वहां नहीं हूं और बुशरा बेगम घर पर अकेली हैं। ये किस कानून के तहत ऐसा कर रहे हैं? 

Created On :   18 March 2023 9:19 AM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story