दैनिक भास्कर हिंदी: अलविदा: अपने चहेते जनरल सुलेमानी को ईरान ने दी अंतिम विदाई

January 5th, 2020

हाईलाइट

  • शोक जुलूस में लगे 'अमेरिका इज द ग्रेट सैटन' के लगे नारे
  • अपनी जन्मभूमि केरमन में ही दफन होगा सुलेमानी का शव

डिजिटल डेस्क, तेहरान। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश पर शुक्रवार तड़के मारे गए अपने चहेते और वफादार जनरल कमांडर कासिम सुलेमानी को पूरे ईरान ने अंतिम विदाई दी। सुलेमानी का शव इराक की राजधानी बगदाद, नजफ और कर्बला शहरों में शवयात्रा निकाले जाने के बाद तेहरान पहुंचेगा। तेहरान के एक मीडिया चैनल के मुताबिक बगदाद में ईरानी राजदूत इराज मस्जेदी ने कहा कि शनिवार को बगदाद में लेफ्टिनेंट जनरल सुलेमानी की शवयात्रा निकाली जाएगी।

'अमेरिका इज द ग्रेट सैटन' के लगे नारे
सुलेमानी की मौत के बाद शनिवार को बगदाद में भारी तादाद के साथ उसका शोक जुलूस निकाला गया। इस दौरान लोगों ने 'अमेरिका इज द ग्रेट सैटन' यानी 'अमेरिका महा शैतान है' के नारे लगाए। यह जुलूस बगदाद की हर गली से गुजरा, जो तीर्थस्थल इमाम कदीम से शुरू किया गया था। बता दें कि इमाम कदीम शिया इस्लाम के प्रमुख तीर्थस्थलों में से एक है।

इराकी मिलिशिया कमांडर के साथ निकलेगी शवयात्रा
इराज मस्जेदी ने बताया कि 'इराक के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अदेल अब्दुल महदी के साथ एक बैठक में उन्हें बताया गया है कि इराक के लोगों ने जोर देकर कहा है कि शनिवार को इराकी राजधानी में सुलेमानी की शवयात्रा निकाली जानी चाहिए।' उन्होंने बताया कि 'सुलेमानी के साथ ही इराक के पॉपुलर मोबिलाइजेशन फ्रंट (PMF) के अधिकारी अबू महदी अल-मुहांदिस की भी सम्मान के साथ शवयात्रा निकाली जाएगी।' बता दें कि अमेरिका की कार्रवाई में अबू महदी की भी मौत हो गई थी।

अपनी जन्मभूमि में ही दफन होगा सुलेमानी
वहीं बगदाद में ईरान के उप राजदूत मौसा तबातबाई ने भी बताया कि 'सुलेमानी की शवयात्रा नजफ और कर्बला में भी आयोजित की जाएगी। इसके बाद सुलेमानी का पार्थिव शरीर ईरान पहुंचेगा, जहां मशहद में एक समारोह आयोजित किया जाएगा।' ईरान की मेहर न्यूज एजेंसी के मुताबिक सुलेमानी की शवयात्रा रविवार सुबह तेहरान में भी आयोजित होगी। इस दौरान इस्लामिक क्रांति के नेता अयातुल्ला सैय्यद अली खामेनी एक प्रार्थना सभा में भाग लेंगे। रिपोर्ट में बताया गया कि सुलेमानी का शव को उसकी जन्मभूमि केरमन में दफन किया जाएगा।