comScore

पाक पीएम इमरान खान ने फिर उगला जहर, बोले- कश्मीरियों को हक होगा आजाद रहें या पाकिस्तान का हिस्सा बनें 

पाक पीएम इमरान खान ने फिर उगला जहर, बोले- कश्मीरियों को हक होगा आजाद रहें या पाकिस्तान का हिस्सा बनें 

हाईलाइट

  • कश्मीर के लोगों को अपने भविष्य का फैसला करने के लिए हक मिलना था: पाक पीएम

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र को अपने वादे की याद दिलाते हुए कश्मीर के लोगों को भरोसा दिलाया है कि संयुक्त राष्ट्र के वादे के मुताबिक, जब उन्हें अपना हक मिल जाएगा, तब उन्हें इस बात की आजादी होगी कि वो पाकिस्तान का हिस्सा बनें या आजाद रहें।

पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के कोटली शहर में शुक्रवार को हुई एकजुटता रैली को संबोधित करते हुए इमरान खान ने कहा कि दुनिया ने कश्मीर के लोगों से साल 1948 में एक वादा किया था। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव के मुताबिक कश्मीर के लोगों को अपने भविष्य का फैसला करने के लिए हक मिलना था।

उन्होंने कहा कि दुनिया को याद दिलाना है कि कश्मीर के लोगों से जो वादा किया गया था, वो वादा पूरा नहीं हुआ, जबकि इसी सुरक्षा परिषद ने ईस्ट तिमोर को जो मुस्लिम मुल्क इंडोनेशिया का एक जजीरा था, वहां ईसाई ज्यादा थे, वही हक ईस्ट तिमोर को दिया गया। जनमत संग्रह करवाकर उन्हें जल्द आजाद करवा दिया गया। मैं संयुक्त राष्ट्र को याद दिलाना चाहता हूं कि उसने पाकिस्तान से अपना वादा पूरा नहीं किया।

इमरान ने कहा कि कश्मीरियों को हक होगा कि आजाद रहें या पाकिस्तान का हिस्सा बनें, ये उनकी मर्जी होगी। उन्होंने कहा कि मैं कश्मीर के लोगों को ये कहना चाहता हूं कि इंशाल्लाह जब आपको अपना ये हक मिलेगा और जब कश्मीर के लोग पाकिस्तान के हक़ में फैसला करेंगे, उसके बाद पाकिस्तान कश्मीर के लोगों को अधिकार देगा कि आप आजाद रहना चाहते हैं या पाकिस्तान का हिस्सा बनना चाहते हैं। ये आपका हक होगा।

उन्होंने दावा किया कि सारी मुसलमान दुनिया आजाद कश्मीर के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि आपके साथ सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं है, बल्कि पूरी मुसलमान दुनिया साथ खड़ी है। अगर मुसलमान हुकूमतें आज किसी भी वजह से आपको सपोर्ट नहीं कर रही हैं, तो मैं ये आपको यकीन दिलाता हूं कि सारी मुसलमान दुनिया की अवाम मकबूजा कश्मीर (आजाद कश्मीर) के लोगों के साथ खड़ी है।
 

कमेंट करें
kusVI