उपद्रवियों से निपटने में लीसेस्टर पुलिस के अधिकारी भी हुए घायल

Leicester Police officers were also injured in dealing with miscreants
उपद्रवियों से निपटने में लीसेस्टर पुलिस के अधिकारी भी हुए घायल
बड़े पैमाने पर तनाव और अशांति उपद्रवियों से निपटने में लीसेस्टर पुलिस के अधिकारी भी हुए घायल
हाईलाइट
  • अव्यवस्था का सामना

डिजिटल डेस्क, लीसेस्टर। लीसेस्टरशायर पुलिस को महत्वपूर्ण आक्रामकता का सामना करना पड़ा जिसमें कुछ लोग घायल हो गए। क्योंकि उन्होंने लीसेस्टर में अव्यवस्था का सामना किया, बल के मुख्य कांस्टेबल रॉब निक्सन ने मीडिया रिपोर्टों के अनुसार ये जानकारी दी है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, निक्सन ने कहा कि शनिवार को लोगों के समूहों को एक-दूसरे पर हमला करने से रोकने के लिए पुलिस ने मुस्तैदी दिखाई जिसमें 16 अधिकारी और एक पुलसि का कुत्ता घायल हो गए। रिपोर्ट में कहा गया है कि अशांति मुख्य रूप से मुस्लिम और हिंदू समुदायों के युवाओं से जुड़े तनाव के बीच हुई।

निक्सन ने कहा कि तनाव को दूर करने में मदद के लिए अधिकारियों को देश के अलग-अलग हिस्सों से लाया गया है। उन्होंने कहा, उन्हें महत्वपूर्ण आक्रामकता का सामना करना पड़ा, मुझे लगता है कि उन्होंने कुछ बहुत ही चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों का सामना किया, और मुझे वास्तव में विश्वास है कि उन्होंने जनता की रक्षा के लिए खुद को खतरे में डाल दिया।

निक्सन ने कहा, मुझे लगता है कि हमें बड़ी संख्या में ऐसे लोगों का सामना करना पड़ा जो दूसरे लोगों को चोट पहुंचाने पर आमादा थे। पुलिस के अनुसार, पूर्वी लीसेस्टर क्षेत्र में शनिवार को हुए विरोध प्रदर्शन से अव्यवस्था फैल गई थी। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को एक और विरोध प्रदर्शन हुआ, जिसमें लगभग 100 लोग शामिल थे, लेकिन पुलिस ने कहा कि इस दौरान कोई अव्यवस्था नहीं हुई।

शनिवार को हंगामे के दौरान दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। एक युवक को हथियार रखने के संदेह में, और दूसरे युवक को हिंसक अव्यवस्था करने की साजिश के संदेह में। बीबीसी ने बताया कि लीसेस्टर में अह माहौल न बिगड़े इसके लिए एक ऑपरेशन में पंद्रह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्य रूप से मुस्लिम और हिंदू समुदायों के युवाओं के बीच तनाव के बीच शनिवार को बड़े पैमाने पर अशांति थी।

पुलिस ने कहा कि, यह एक अचानक हुए प्रदर्शन के कारण हुआ था। रविवार को लगभग 100 लोगों की भागीदारी वाला एक और विरोध प्रदर्शन हुआ। पुलिस ने कहा कि रविवार को गिरफ्तार किए गए सभी 15 लोग हिरासत में हैं। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, लीसेस्टर के मेयर पीटर सोलस्बी ने कहा कि वो और समुदाय के नेता घटनाओं से चकित थे, उन्होंने कहा कि उन्हें कुछ बहुत ही विकृत सोशल मीडिया और बहुत सारे लोग जो बाहर से आए थे उनके द्वारा भड़काया गया था।

रविवार के विरोध के दौरान, लोग बेलग्रेव रोड पर एकत्र हुए, भीड़ के सदस्यों ने बीबीसी को बताया कि हाल की अशांति की वजह से वो सड़कों पर आए। अधिकारियों ने सड़क को बंद कर दिया और भीड़ में से कुछ पुलिसकर्मियों से ही धक्का-मुक्की करने लगे। बाद में, प्रदर्शनकारी नॉर्थ एविंगटन क्षेत्र में ग्रीन लेन रोड पर चले गए। पुलिस ने तुरंत मोर्चा संभाल लिया। हंबरस्टोन रोड पर भी पुलिस की मौजूदगी थी, आस-पास की कई सड़कों को बंद कर दिया गया था।

पुलिस ने एक बयान में कहा, अधिकारियों को रविवार दोपहर शहर के नॉर्थ इविंगटन इलाके में युवकों के इकट्ठा होने के बारे में पता चला। अधिकारियों ने उनसे बात की और शांति बनाए रखने की अपील की। पुलिस भी अलर्ट पर है ताकि, कोई अशांति न फैले।

 

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Created On :   19 Sep 2022 6:30 PM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story