श्रीलंका: चीफ ऑफ डिफेंस जनरल के मास्को दौरे से रूस और श्रीलंका के बीच मजबूत हुए सैन्य संबंध

October 29th, 2021

हाईलाइट

  • रूसी और श्रीलंका कीअंतर्राष्ट्रीय सैन्य अभ्यासों में भागीदारी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। श्रीलंका के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल शैवेंद्र सिल्वा आठ दिवसीय यात्रा पर मास्को में हैं। इस दौरान उन्होंने युद्ध नायकों के स्मारकों पर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने श्रीलंका के कर्मियों के लिए तीन तरह की सेवा प्रशिक्षण को बढ़ाने, संयुक्त अभ्यास आयोजित करने और मैकेनिकल और इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकियों पर ज्ञान के आदान-प्रदान से संबंधित मामलों पर चर्चा करने के लिए रूसी सेना कमांडर-इन-चीफ आर्मी जनरल ओलेग साल्युकोव के साथ मुलाकात की।

श्रीलंकाई सेना प्रमुख ने अपने रूसी समकक्ष के साथ क्षेत्रीय सुरक्षा मुद्दों पर भी चर्चा की। पिछले कुछ सालों में दोनों देशों ने रक्षा और सैन्य क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाया है। जनरल साल्युकोव ने 2020 में कोलंबो का दौरा किया था। पिछले हफ्ते ही, रूसी नौसेना ने एक युद्धपोत और दो पनडुब्बियों को कोलंबो बंदरगाह भेजा था। इनमें जहाज शामिल थे जिसमें कार्वेट ग्रेमाशची और पनडुब्बी बी- 603 और बी -274, शामिल थे।

श्रीलंकाई रक्षा प्रतिनिधिमंडल ने सैन्य मंचों में भाग लेने के लिए सितंबर में मास्को का दौरा किया और रूसी रक्षा मंत्रालय के साथ बातचीत की थी। प्रतिनिधिमंडल ने अंतर्राष्ट्रीय सैन्य अभ्यासों में भागीदारी और रूसी और श्रीलंकाई रक्षा शिक्षा प्रतिष्ठानों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने पर भी चर्चा की। कथित तौर पर, श्रीलंका रूस से एसयू-30 लड़ाकू जेट और बख्तरबंद कर्मियों के उपयोग में आने वाला वाहक खरीदने की योजना बना रहा है। जनरल सिल्वा मास्को हायर कंबाइंड आर्म्स कमांड स्कूल, मिल्रिटी आर्टिलरी एकेडमी, मिल्रिटी मेडिकल एकेडमी और सैन्य और पर्यटन महत्व के कई अन्य स्थानों का भी दौरा करेंगे।

 

 

(आईएएनएस)