दैनिक भास्कर हिंदी: सजा के खिलाफ नवाज और मरियम ने खटखटाया इस्लामाबाद हाईकोर्ट का दरवाजा

July 16th, 2018

हाईलाइट

  • नवाज शरीफ और मरियम ने एवनफिल्ड मामले में हुई सजा के खिलाफ इस्लामाबाज हाईकोर्ट में दाखिल की याचिका
  • रावलपिंडी के अदियाला जेल में बंद हैं शरीफ और उनकी बेटी मरियम

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। भ्रष्टाचार के आरोप में जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम ने आज (16 जुलाई) एवनफिल्ड मामले में हुई सजा के खिलाफ इस्लामाबाज हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। रावलपिंडी के अदियाला जेल में कैद नवाज शरीफ और मरियम नवाज की तरफ से इस्लामाबाद हाई कोर्ट में  इस मामले में अपील दाखिल की गई है। कोर्ट इनकी अपील पर नियमित तौर पर सुनवाई करेगी या नहीं इस पर फिलहाल अनिश्चितता बनी हुई है।

 

कोर्ट ने नवाज को सुनाई थी 10 साल की सजा

गौरतलब है कि 6 जुलाई को पाकिस्तान की एहतिसाब (अकाउंटेबिलिटी) कोर्ट ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराते हुए (इवनफील्ड संपत्ति भ्रष्टाचार के मामले में) नवाज को 10 साल, मरियम नवाज को 7 साल और उनके दामाद रिटायर्ड कैप्टन सफदर को एक साल की सजा सुनाई थी। इसके बाद शुक्रवार को 68 वर्षीय नवाज शरीफ और उनकी बेटी को लंदन से लौटने के बाद लाहौर में गिरफ्तार कर लिया गया था। 

 

कोर्ट के फैसले को दी चुनौती

जानकारी के मुताबिक नवाज के वकीलों की एक टीम वकालतनामे पर हस्ताक्षर करवाने अदियाला जेल गई थी। बताया जा रहा है कि नवाज की लीगल टीम ने न सिर्फ पाकिस्तान की एहतिसाब कोर्ट के 6 जुलाई के फैसले को चुनौती दी है बल्कि उन्होंने पाकिस्तान की अंतरिम सरकार के कानून मंत्रालय के जेल ट्रायल संबंधी अधिसूचना को भी चुनौती दी है।