रूस-यूक्रेन युद्ध: रूस ने अपने परमाणु बलों को हाई कॉम्बैट अलर्ट पर रखा

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • यह कदम नाटो के शीर्ष अधिकारियों द्वारा शत्रुतापूर्ण बयानबाजी के जवाब में आया है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों के साथ-साथ उत्तरी और प्रशांत बेड़े के जहाजों से लैस रूस की ग्राउंड यूनिट्स को हाई कॉम्बैट अलर्ट पर रखा गया है।

आरटी की रिपोर्ट में बताया गया है कि रूसी रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को इसकी पुष्टि की।

आरटी ने बताया कि रूसी नौसेना में परमाणु मिसाइलों से लैस पनडुब्बियां शामिल हैं।

मंत्रालय ने कहा कि यह कदम रविवार को राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा जारी आदेश के अनुसार उठाया गया है।

पुतिन ने रूस के खिलाफ नाजायज प्रतिबंध और पश्चिमी अधिकारियों द्वारा आक्रामक बयान का उल्लेख किया। हालांकि उन्होंने इस बारे में अधिक विस्तार से बात नहीं की।

यूक्रेन में अपने सैन्य अभियान के जवाब में अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के सदस्य देशों सहित कई देशों ने रूस पर व्यापक प्रतिबंध लगाए हैं।

आरटी ने बताया कि इससे पहले, पुतिन ने रविवार को देश के परमाणु निवारक बलों को विशेष अलर्ट पर रखा था।

इस कदम की घोषणा रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु और चीफ ऑफ स्टाफ वालेरी गेरासिमोव के साथ पुतिन की बैठक के दौरान की गई।

पुतिन ने कहा, पश्चिमी देश केवल आर्थिक क्षेत्र में हमारे देश के खिलाफ अमित्र कार्रवाई ही नहीं कर रहे हैं। मैं उन नाजायज प्रतिबंधों के बारे में बोल रहा हूं जिनके बारे में सभी अच्छी तरह जानते हैं। हालांकि, प्रमुख नाटो देशों के शीर्ष अधिकारी भी हमारे देश के खिलाफ आक्रामक बयान देते हैं।

रूस के राष्ट्रपति ने बताया कि यह कदम नाटो के शीर्ष अधिकारियों द्वारा शत्रुतापूर्ण बयानबाजी के जवाब में आया है।

(आईएएनएस)