अफगानिस्तान : तालिबान ने अफगानिस्तान में आईपीएल के प्रसारण पर लगाया प्रतिबंध

September 21st, 2021

हाईलाइट

  • तालिबान ने अफगानिस्तान में आईपीएल के प्रसारण पर लगाया प्रतिबंध

डिजिटल डेस्क, काबुल। अफगानिस्तान में क्रिकेट प्रशंसकों को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के यूएई चरण को देखने का मौका नहीं मिलेगा, क्योंकि सत्तारूढ़ तालिबान ने देश में मैचों के प्रसारण को इस्लामी विरोधी करार देते हुए प्रतिबंधित कर दिया है। आईपीएल का दूसरा चरण रविवार को शुरू हुआ, लेकिन अफगानिस्तान के क्रिकेट के दीवाने लोगों को मैच देखने को नहीं मिला, क्योंकि तालिबान ने स्थानीय मीडिया को चीयरलीडर्स के रूप में महिलाओं की उपस्थिति और दर्शकों के बीच आईपीएल दिखाने के खिलाफ एक फरमान जारी किया है।

पूर्व प्रसारक और पत्रकार फवाद अमन, जिन्होंने रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के रूप में काम किया है, उन्होंने तालिबान द्वारा आईपीएल पर लगाए गए प्रतिबंध को हास्यास्पद करार दिया। पत्रकार और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के पूर्व मीडिया मैनेजर एम. इब्राहिम मोमंद ने कहा कि आईपीएल मैचों के लाइव प्रसारण पर प्रतिबंध लगा दिया गया है क्योंकि इसे इस्लाम विरोधी माना गया है।

मोमंद ने आईपीएल की शुरुआत से पहले टवीट कर कहा, अफगानिस्तान राष्ट्रीय (टीवी) हमेशा की तरह आईपीएल का प्रसारण नहीं करेगा। लाइव प्रसारण पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, क्योंकि मैच के दौरान इस्लाम विरोधी गतिविधि, लड़कियों के नृत्य और स्टेडियम में प्रतिबंधित बालों वाली महिलाओं की उपस्थिति के कारण आईपीएल के प्रसारण पर प्रतिबंध लगाया गया है। जब से तालिबान ने अफगानिस्तान पर अधिकार किया है, महिलाओं को कार्यालयों में काम करने या खेल गतिविधियों में भाग लेने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है क्योंकि इसे इस्लाम विरोधी माना जाता है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खेल में महिलाओं की भागीदारी के तालिबान के विरोध के कारण अफगानिस्तान की पुरुष टीम के खिलाफ एकमात्र टेस्ट रद्द कर दिया है।

(आईएएनएस)