दैनिक भास्कर हिंदी: अफगानिस्तानी राष्ट्रपति दे रहे थे भाषण, तभी आतंकियों ने दनादन दागे 9 रॉकेट

August 21st, 2018

हाईलाइट

  • इन दिनों अफगानिस्तान की राजधानी काबुल गृहयुद्ध की आग में झुलस रहा है।
  • मंगलवार को आंतकियों ने काबुल में राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रोग्राम के दौरान रॉकेट हमला किया।
  • अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ईद पर संदेश दे रहे थे, इसी दौरान आतंकियों ने रॉकेट से हमला कर दिया।

डिजिटल डेस्क, काबुल। इन दिनों अफगानिस्तान की राजधानी काबुल गृहयुद्ध की आग में झुलस रहा है। लगभग पूरा अफगानिस्तान आतंकियों की जद में है। इसी क्रम में मंगलवार को आंतकियों ने काबुल में राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रोग्राम के दौरान रॉकेट हमला किया। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ईद पर संदेश दे रहे थे, इसी दौरान आतंकियों ने रॉकेट से हमला कर दिया। रॉकेट प्रोग्राम स्थल से काफी दूर गिरा था। खबर मिली है कि आतंकियों ने अफगानिस्तान के प्रेसिडेंशियल पैलेस को निशाना बनाया था।

बता दें कि हमले के दौरान राष्ट्रपति अशरफ गनी ईद पर संदेश दे रहे थे। उन्होंने रॉकेट हमले की आवाज भी सुनी, लेकिन अपना संदेश भाषण नहीं रोका। हमले के बाद राष्ट्रपति ने भाषण जारी रखते हुए कहा कि आतंकवादी रॉकेट हमला करके भी देश की प्रगति को नहीं रोक पाएंगे। अपने भाषण में राष्ट्रपति ने आतंकियों की इस नापाक हरकत की निंदा भी की।

काबुल पुलिस के प्रवक्ता हश्मत स्तानिकजई ने मस्जिद के निकट आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ होने की पुष्टि की, लेकिन इस घटना में हताहत हुए लोगों के बार में जानकारी नही दी। जानकारी के अनुसार आतंकवादियों ने लगातार 9 रॉकेट दागते हुए हमला किया। ये रॉकेट राजनयिक इलाके और ईदगाह के नजदीक गिरे थे। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने बताया कि मंगलवार सुबह आतंकियों के एक समूह ने रेका खाना में एक इमारत पर कब्जा कर लिया और काबुल की ओर कई रॉकेट दागे। इसमें दो लोग घायल हो गए। इस हमले के बाद सुरक्षा बलों ने भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया।

अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल यह साफ नहीं हो पाया है कि आखिर यह हमला किसने किया? मगर सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच काबुल शहर के पुराने इलाके में मुठभेड़ भी हुई थी। सैन्य हेलिकॉप्टर रेका खाना जिले में ईदगाह मस्जिद के ऊपर गोलियां चलाई और आतंकियों को निशाना बनाया। वहीं, काबुल स्टेडियम के निकट बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।