हमले में भारतीय छात्र की मौत: जंग के बीच कीव में अब भी फंसे हैं हजारों भारतीय छात्र, जानिए शहर छोड़ने के लिए क्या हैं इंतजाम और नई एडवाइजरी

March 1st, 2022

हाईलाइट

  • यूक्रेन से भारतीय को लाने के लिए चार मंत्री लगाए गए
  • रूस की बमबारी में भारतीय छात्र की मौत

डिजिटल डेस्क, कीव। यूक्रेन और रूस के बीच जारी युद्ध में एक भारतीय छात्र की मौत की खबर के बाद पूरे देशभर में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। यूक्रेन के खारकीव में भारतीय छात्र की मौत रूसी बमबारी में हुई है। इस बात की पुष्टि विदेश मंत्रालय ने की है। बताया जा रहा है कि छात्र कर्नाटक के चालगेरी का रहने वाला था। विदेश मंत्रालय छात्र के मौत के बाद सख्त हो गया है। गौरतलब है कि रूसी सेना राजधानी कीव पर कब्जा कर सकती है।

ऐसे में भारतीय दूतावास ने कीव में फंसे भारतीयों को तुरंत कीव छोड़ने का निर्देश दिया है। उधर दूतावास की तरफ से कहा गया है कि भारतीय नागरिक किसी भी तरीके से कीव से बाहर निकल जाएं। अभी भी करीब 16 हजार छात्र और नागरिक संकटग्रस्त यूक्रेन में फंसे हैं, जिन्हें भारत लाने के लिए सरकार के प्रयास जारी है। 

कैसे कीव से निकल सकते हैं?

यूक्रेन में फंसे भारतीय को सुरक्षित निकालने के लिए भारत सरकार लगातार प्रयासरत है। भारतीय दूतावास द्वारा जारी एडवाइजरी के मुताबिक भारतीयों को ट्रेन के माध्यम से यात्रा करने की सलाह दी जा रही है। बताया जा रहा है कि अपने नजदीकी रेलवे स्टेशन से निकलकर कीव छोड़कर जाएं और देश के पश्चिमी हिस्सों की तरफ जाने का प्रयास करें।

यूक्रेन में साधारण ट्रेनों का  संचालन शुरू हो गया है। ट्रेनों की बुकिंग की जा सकती है। जबकि, यूक्रेन की तरफ से इवेक्युएशन के लिए स्पेशल ट्रेनें भी चलाई जा रही हैं। यह पूरी तरह मुफ्त हैं और टिकट की जरूरत नहीं है। ट्रेनो का शेड्यूल आधिकारिक वेबसाइट www.uz.gov.ua पर देख सकते हैं। 

किन देशों से लौट सकते हैं भारत

भारत से 4 केंद्रीय मंत्री यूक्रेन के पड़ोसी देशों में जाकर वहां से भारतीयों को वापस लाने के लिए प्रयासरत हैं। प्रधानमंत्री मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्री हरदीप पुरी, ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया, किरण रिजीजू और वीके सिंह को इवेक्‍यूशन मिशन पर भेजने का निर्णय लिया गया है। यूक्रेन में फंसे लोग इन पड़ोसी देशों से वापस भारत लौट सकते हैं। 

यूक्रेन में भारतीय दूतावास का संपर्क सूत्र

किसी भी सहायता या जानकारी के लिए एंबेसी के नंबरों पर संपर्क किया जा सकता है। यूक्रेन स्थित भारतीय एंबेसी के कॉन्‍टैक्‍ट नंबर इस प्रकार हैं।

  •  +38 0997300428
  •  +38 0997300483
  •  +38 0933980327
  •  +38 0635917881
  •  +38 0935046170 

यूक्रेन में फंसे हुए भारतीय नागरिकों के लिए भारत सरकार ने 24 घंटे हेल्‍पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। भारतीय छात्र दिल्‍ली स्थित कंट्रोल रूम में इन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं।

  • +911123012113 
  •  +911123914104
  •  +911123017905 
  •  180011879701
  •