comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

US: कमला हैरिस ने रचा इतिहास, बनीं डेमोक्रेटिक पार्टी की उप-राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार, भाषण में मां को किया याद

August 20th, 2020 13:28 IST
US: कमला हैरिस ने रचा इतिहास, बनीं डेमोक्रेटिक पार्टी की उप-राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार, भाषण में मां को किया याद

हाईलाइट

  • डेमोक्रैटिक पार्टी ने कमला हैरिस को बनाया उप-राष्‍ट्रपति पद का उम्‍मीदवार
  • ऐलान के बाद भावुक हुईं कमला हैरिस ने अपनी भारतीय मां को किया याद

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। पहली अश्वेत और दक्षिण एशियाई महिला के तौर पर एक प्रमुख अमेरिकी पार्टी से उप-राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के रूप में नामित होकर कमला हैरिस ने इतिहास रच दिया है। पार्टी के ऐलान के बाद हैरिस भावुक हो गईं और अपनी भारतीय मां को याद किया। उन्होंने अपने भाषण में खुद को भारत और जमैका के आप्रवासियों की बेटी बताया और ट्रंप पर निशाना भी साधा।

दरअसल पिछले हफ्ते डेमोक्रैटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने कमला हैरिस को उप-राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना था। कल यानी बुधवार को कमला हैरिस ने उप-राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवारी को स्वीकार कर लिया। इसी के साथ वे अमेरिका के किसी मुख्य पार्टी से उप-राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनने वाली पहली अश्वेत और दक्षिण एशियाई मूल की महिला बन गई हैं। बिडेन और हैरिस 3 नंवबर को होने वाले चुनाव में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उप-राष्ट्रपति माइक पेंस को चुनौती देंगे।

बुधवार रात विस्कॉन्सिन के चेज सेंटर में डेमोक्रैटिक नेशनल कमेटी के कन्वेंशन में कैलिफोर्निया से सीनेटर कमला हैरिस ने उप-राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में शानदार भाषण दिया। नेशनल कन्वेंशन में अपनी मां के बारे में हैरिस ने कहा, काश आज वो यहां होतीं, लेकिन मुझे पता है कि वह आज रात मुझे देख रही हैं।

बता दें कि, हैरिस की मां श्यामला गोपालन भारत के तमिलनाडु राज्य की थीं, उनका करीब एक दशक पहले निधन हो चुका है, लेकिन अब भी वह कमला हैरिस के जीवन में एक ताकत बनी हुई हैं। कैलिफोर्निया की इस सीनेटर के सबसे महत्वपूर्ण भाषणों में से एक में गोपालन का जिक्र बार-बार आया।

इस मौके पर हैरिस ने उन मूल्यों पर भी बात की, जो उन्हें उनकी मां ने सिखाए थे। उन्होंने कहा, विश्वास से चलना, ना कि केवल दृष्टि से और अमेरिकियों की पीढ़ियों के लिए एक ऐसे विजन से काम करना जो कि जो बिडेन में है। कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन, सदन के सभापति नैन्सी पेलोसी और पूर्व प्रतिनिधि गैबी गिफर्डस भी शामिल थे।

हैरिस के माता-पिता 1960 के दशक की शुरूआत में बर्कले में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के डॉक्टरेट छात्रों के रूप में मिले थे। जमैका निवासी उनके पिता डोनाल्ड हैरिस अर्थशास्त्र और उनकी मां ने पोषण और एंडोक्रिनोलॉजी का अध्ययन किया था। अपनी विरासत का हवाला देते हुए हैरिस ने अपने संबोधन में कहा, मेरे सामने पीढ़ियों के समर्पण का एक वसीयतनामा है।

अपनी उम्मीदवारी स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा, मैं संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के उप-राष्ट्रपति के पद पर आपका नामांकन स्वीकार करती हूं। हैरिस ने अपने भाषण के दौरान, डोनाल्ड ट्रंप को असफल नेता करार दिया और कहा ट्रंप नेतृत्व करने में नाकाम रहे। वहीं कोरोना वायरस को लेकर ट्रंप की अव्यवस्था पर हैरिस ने कहा, लगातार फैलाई गई अराजकता ने हमें भटकने के लिए छोड़ दिया है, यह हमें भयभीत करती है। 

कमेंट करें
ATER9