comScore

WHO: अफ्रीका में कोविड-19 के खिलाफ टीके का परीक्षण नहीं किया जाएगा

WHO: अफ्रीका में कोविड-19 के खिलाफ टीके का परीक्षण नहीं किया जाएगा

हाईलाइट

  • अफ्रीका में कोविड-19 के खिलाफ टीके का परीक्षण नहीं किया जाएगा : डब्ल्यूएचओ

डिजिटल डेस्क, जेनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस ने कहा कि अफ्रीका कोविड-19 महामीर के संक्रमण के खिलाफ किसी भी टीके के लिए परीक्षण का मैदान नहीं बनेगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने जेनेवा में सोमवार को ट्रेडोस की एक वर्चुअल ब्रीफिंग के हवाले से कहा, अफ्रीका किसी भी वैक्सीन के लिए परीक्षण का आधार नहीं बन सकता है और न ही हो सकता है। हम दुनियाभर में किसी भी वैक्सीन या थैरेप्यूटिक्स का परीक्षण करने के लिए सभी नियमों का पालन करेंगे, चाहे वह यूरोप में हो या अफ्रीका में या और कहीं।

महाराष्ट्र में कोरोना के 23 नए मामले, पुणे में तीन की मौत, संक्रमितों की कुल संख्या 891 हुई

गौरतलब है कि कुछ वैज्ञानिकों द्वारा पिछले सप्ताह की गई टिप्पणियों में कहा गया था कि नए टीकों के लिए परीक्षण का आधार अफ्रीका होगा। ट्रेडोस ने इसी के मद्देनजर कहा, औपनिवेशिक मानसिकता के हैंगओवर को रोकना होगा। खबरों के अनुसार, एक टीवी बहस के बाद दो फ्रांसीसी डॉक्टरों पर नस्लवाद का आरोप लगा है। उनमें से एक ने अफ्रीका में परीक्षण का सुझाव देते हुए कहा था कि कोविड-19 संक्रमण पर ट्यूबरक्लोसिस का टीका प्रभावी साबित होगा या नहीं इसकी जांच अफ्रीका में होनी चाहिए। कड़े शब्दों में नस्लवादी टिप्पणी की निंदा करते हुए डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने दोहराया, यह अफ्रीका में नहीं होगा, और कहीं और नहीं होगा, किसी भी देश में नहीं। सभी प्रोटोकॉल को ध्यान में रखा जाएगा और मानवों के साथ मानवी की तरह ही व्यवहार किया जाएगा।

कोरोना से कोहराम: टोक्यो, ओसाका समेत जापान के सात प्रांतों में आपातकाल

कमेंट करें
t2aUG