ओमीक्रॉन का टीका: 100 दिन में तैयार हो जाएगी नए वेरिएंट की वैक्सीन, फाइजर और बायोएनटेक ने दिया बयान 

November 27th, 2021

हाईलाइट

  • दक्षिण अफ्रीका में सबसे ज्यादा है नए वेरिएंट का संक्रमण

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। कोरोना के नए वेरिएंट ने दुनियाभर में तहलका मचा रखा है। नए वेरिएंट ओमीक्रॉन से सबसे ज्यादा दक्षिण अफ्रीका प्रभावित है। वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद ओमीक्रॉन के संक्रमण से कोई नहीं बच पा रहा है। इसलिए एहतियात के तौर पर कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका की फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है। इस बीच एक राहत देने वाली खबर सामने आई है। दरअसल,फाइजर और बायोएनटेक ने उम्मीद जताई है कि, वो करीब 100 दिन के अंदर नए वैरिएंट के खिलाफ नया टीका विकसित कर सकते है। 

बता दें कि,स्पुतनिक की रिपोर्ट के अनुसार, ये बात सामने आई है कि,फाइजर और बायोएनटेक ने वादा किया है कि, वो 100 दिन के अंदर ओमीक्रॉन का टीका तैयार कर देंगे। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने घोषणा की है कि, उसने कोरोना के नए वेरिएंट B.1.1.1.529 की पहचान की है। जो कि, सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था। WHO ने ही इस वेरिएंट को ओमीक्रॉन नाम दिया है। ये एक ग्रीक शब्द है।  

फाइजर और बायोएनटेक का मानना है कि, ये वेरिएंट पहले के सभी वेरिएंट से बिल्कुल अलग है। दवा कंपनियों ने ये बात देखी थी कि, उन्होंने कुछ महीनों पहले से अपनी वैक्सीन को आने वाले वेरिएंट को खत्म करने के अनुकूल बनाने पर काम शुरु कर दिया था। 

इस नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए दक्षिण अफ्रीका की यात्राओं पर लगातार प्रतिबंध लगाए जा रहे है। ताकि, ये तेजी से दूसरे देशों में भी न फैल जाए। अमेरिका और कनाडा ने अब तक प्रतिबंध लगा दिया है। वहीं इस फैसले को फिलिपींस ने भी सख्ती से लागू किया है।