comScore

रोमांचक मुकाबले में पुणे को हराकर नोयडा बना कबड्डी का विजेता

January 12th, 2019 22:06 IST
रोमांचक मुकाबले में पुणे को हराकर नोयडा बना कबड्डी का विजेता

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। अखिल भारतीय कबड्डी के फाइनल में रोमांचक मुकाबले में नोयडा ने पुणे को हराते हुए खिताब पर कब्जा किया। स्वामी विवेकानन्द जयंती के अवसर पर जन जागरण मंच द्वारा दशहरा मैदान में प्रतिवर्षानुसार चार दिवसीय अखिल भारतीय ओपन कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। प्रतियोगिता के अंतिम दिन शनिवार को दशहरा मैदान में सर्वप्रथम चार क्वार्टर फाइनल, दो सेमीफाइनल मैच हुए।

अंतिम दौर में पहुंची जीडी एकेडमी ग्रेटर नोयडा (उत्तरप्रदेश) और शिवनेरी एकेडमी पुणे (महाराष्ट्र) के मध्य शाम को दूधिया रोशनी में राष्ट्रीय प्रतियोगिता का फाइनल मैच खेला गया। जिसमें शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए जीडी एकेडमी नोयडा की टीम ने 41-38 से जीत दर्ज करते हुए विजेता का खिताब अपने नाम किया। शिवनेरी एकेडमी पुणे की टीम उपविजेता रही।

प्रदर्शन मैच में जीती उच्च शिक्षा विभाग
कबड्डी प्रतियोगिता के फाइनल मैच के पूर्व उच्च शिक्षा विभाग और खेल व युवक कल्याण विभाग की महिला कबड्डी टीमों के मध्य एक शो मैच खेला गया। इसमें एक अंक से उच्च शिक्षा विभाग की टीम विजयी रही। जिले की खेल प्रेमी जनता ने पहली बार महिला टीमों के मध्य कबड्डी का प्रदर्शन देखा।

यह रहे अतिथि
पुरस्कार वितरण समारोह में अतिथियों के रुप में मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के पूर्व अध्यक्ष तपन भौमिक, पूर्व विधायक चौधरी चंद्रभान सिंह, डॉ. गगन कोल्हे, मंच के संयोजक रमेश पोफली, जयदेव जैन आदि उपस्थित रहे। मंच संचालन निरपत सिंह टेकडे ने किया। इस दौरान धर्मेन्द्र मिगलानी, विजय पाण्डे, इंद्रजीत सिंह बैस, हरिओम सोनी, प्रीति बिसेन आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।  

पुरस्कृत हुईं टीमें व खिलाड़ी
राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली जीडी एकेडमी ग्रेटर नोयडा (उत्तरप्रदेश) को चमचमाती ट्राफी के साथ 75 हजार रुपए तथा दूसरा स्थान प्राप्त करने वाली शिवनेरी एकेडमी पुणे को ट्राफी के साथ 50 हजार रुपए का पुरस्कार दिया गया। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली पीजी कॉलेज की टीम को ट्राफी के साथ 15 हजार रुपए तथा दूसरे स्थान पर रही बेरडी सौंसर की टीम को ट्राफी के साथ 10 हजार रुपए की नगद राशि मंच द्वारा पुरस्कार के रुप में दी गई। इसके अलावा बेस्ट केचर, बेस्ट रैडर और बेस्ट दर्शक का पुरस्कार दिया गया।

कमेंट करें
5ILeB
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।