दैनिक भास्कर हिंदी: भीमा कोरेगांव: मिलिंद एकबोटे सहित 163 लोगों को जारी हुआ नोटिस

December 23rd, 2019

हाईलाइट

  • 163 लोगों में आरोपी मिलिंद एकबोटे और संभाजी भिड़े भी शामिल
  • हिंसा की दूसरी वर्षगांठ से पहले जिले में प्रवेश करने पर लगाई रोक
  • मिलिंद एकबोटे ने साल 2018 में भड़काई थी कोरेगांव भीमा में हिंसा

डिजिटल डेस्क, पुणे। पुणे ग्रामीण पुलिस ने सोमवार को भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में 163 लोगों को नोटिस जारी किया है। 163 लोगों में भीमा कोरेगांव हिंसा के आरोपी मिलिंद एकबोटे और संभाजी भिड़े के नाम भी शामिल हैं। बता दें कि 1 जनवरी को कोरेगांव भीमा लड़ाई की 202वीं और भीमा कोरेगांव हिंसा की दूसरी वर्षगांठ है। इसी के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस द्वारा नोटिस जारी किया गया है। साथ ही इन सभी को कोरेगांव भीमा में आने से रोका गया है।

 

 

पुलिस ने अपने बयान में कहा कि 'आरोपी मिलिंद एकबोटे और संभाजी भिड़े सहित 163 लोगों को नोटिस भेजे गए। उन्हें भीमा कोरेगांव हिंसा की दूसरी वर्षगांठ से पहले जिले में प्रवेश करने से रोक दिया गया।' बता दें कि मिलिंद एकबोटे पर आरोप है कि उन्होंने साल 2018 में कोरेगांव भीमा में हिंसा भड़काने का कार्य किया था। इस आरोप में उन्हें पुणे ग्रामीण पुलिस ने गिरफ्तार किया था और पुणे कोर्ट ने अप्रैल 2018 में कुछ शर्तों के आधार पर जमानत दी थी। ये शर्तें जनवरी 2019 में खत्म कर दी गई थीं।

गौरतलब है कि साल 2018 की शुरुआत में पुणे के पास भीमा कोरेगांव में जातिगत हिंसा हुई थी। इसमें 1 की मौत हो गई थी, जिसके बाद पूरे महाराष्ट्र के अलग-अलग जिलों में हिंसा फैल गई थी। इस पूरे मामले में पुलिस ने FIR दर्ज करते हुए महाराष्ट्र, झारखंड, महाराष्ट्र और दिल्ली समेत अन्य राज्यों में जगह-जगह छापेमार कार्रवाई की थी। पूरे मामले में नक्सलियों के हाथ होने की भी बात सामने आई थी।

खबरें और भी हैं...