दैनिक भास्कर हिंदी: इशारों में गडकरी का मोदी-शाह पर निशाना, कहा-लेनी चाहिए थी हार की जिम्मेदारी

December 23rd, 2018

हाईलाइट

  • पुणे जिला शहरी सरकारी बैंक एसो. लि. के कार्यक्रम में बोल रहे थे गडकरी
  • केंद्रीय मंत्री ने कहा, सफलता मिलने पर लोगों में मच जाती है श्रेय लेने की होड़
  • केंद्रीय बैंकों को करना होगा सहकरी बैंकों का सहयोग: गडकरी

डिजिटल डेस्क, पुणे। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में हुई हार के बाद इशारों ही इशारों में पीएम मोदी और बीजेपी चीफ अमित शाह पर निशाना साधा है। पुणे में एक मंच पर उन्होंने हार के पीछे की वजह पर मंथन करने की बात कही है। मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे हिंदी भाषी राज्यों में भी भाजपा की हार पर गडकरी ने कहा कि नेतृत्व को विफलताओं और हार की भी जिम्मेदारी लेनी चाहिए।


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विफलताओं की जिम्मेदारी कोई नहीं लेना चाहता। उन्होंने कहा कि सफलता के लिए दावेदारी करने वाले तो बहुत सारे लोग हैं, लेकिन असफलता होने पर सब जिम्मेदारी लेने से बचते हैं। कहीं पर भी सफलता मिलने पर लोगों में श्रेय लेने की होड़ मची रहती है, लेकिन विफल होने पर सब दूसरों की तरफ उंगली उठाने लगते हैं। 
 

पुणे जिला शहरी सहकारी बैंक एसोसिएशन लिमिटेड के कार्यक्रम में बोलते हुए शनिवार को गडकरी ने कहा कि नेतृत्व में हार की जिम्मेदारी लेने की भी क्षमता होनी चाहिए। ऐसा करने से रिश्तों में मजबूती आती है। सहकारी बैंकों की खराब हालत पर गडकरी ने कहा कि केंद्रीय बैकों को उनका सहयोग करना होगा। सहकारी बैकों के कामकाज पर सवाल उठाते हुए गडकरी ने कहा कि एक इंजन होने पर गाड़ी ठीक चलती है, लेकिन इंजन ज्यादा होने पर मुश्किलें सामने आने लगती हैं।