दैनिक भास्कर हिंदी: फेसबुक पर लिखा 2019 में कांग्रेस की आएगी सरकार, हो गई हत्या

November 14th, 2018

हाईलाइट

  • फेसबुक पर भाजपा कार्यकर्ताओं से हुआ था विवाद
  • मनोज दुबे ने फेसबुक पर शेयर की थी एक फोटो
  • विधायक नसीम खान के बारे में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने लिखी थी पोस्ट

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में फेसबुक पर हुए एक विवाद के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या का मामला सामने आया। पुलिस ने इस मामले के आरोपी बीजेपी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। मृतक का नाम मनोज छोटेलाल दुबे बताया जा रहा है। गिरफ्त में आए आरोपियों से पुलिस फिलहाल पूछताछ कर रही है। मृतक के रिश्तेदारों का कहना है कि उसने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें लिखा था कि 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने इसे लोकतंत्र की हत्या बताते हुए घटना की निंदा की है वहीं भाजपा ने आरोपी कार्यकर्ताओं को पार्टी से निकाल दिया है। महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने घटना को लोकतंत्र की हत्या बताया है। दुबे को श्रद्धांजलि देते हुए चव्हाण ने कहा कि दुख की इस घड़ी में हम परिवार के साथ हैं। चव्हाण ने कहा कि भाजपा ने राजनीतिक विरोधियों को दुश्मन मानकर उन्हें खत्म करने की नई परंपरा शुरू की है। विरोधियों को खत्म करने के लिए भाजपा गुंडों को पार्टी में शामिल करती है और फिर उन्हें संरक्षण देती है। विधानसभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखेपाटील ने भी दुबे ही हत्या की निंदा करते हुए सवाल किया है कि महाराष्ट्र में कानून का राज है या गुंडों का? 
भाजपा ने दो लोगों को पार्टी से निकाला

दुबे की हत्या के मामले में दो कार्यकर्ताओं को पार्टी से निकाल दिया है। मुंबई भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष मोहित कंबोज ने बयान जारी कर उमेश सिंह और जितेंद्र मिश्रा को पार्टी के सभी पदों और प्राथमिक सदस्यता से निकाले जाने की जानकारी दी।

पुलिस के मुताबिक घाटकोपर के शिवाजीनगर इलाके में असल्फा मेट्रो स्टेशन के नीचे मनोज दुबे पर तलवार और कई धारदार हथियारों से हमला कर दिया। मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस दुबे को राजवाड़ी अस्पताल ले गयी, लेकिन दाखिल करने से पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। ये सारा विवाद फेसबुक पोस्ट को लेकर बताया जा रहा है। बीजेपी कार्यकर्ता ने विधायक नसीम खान के बारे में पोस्ट डाला था।


दुबे को यह पसंद नही आया और उन्होंने इसका विरोध किया। सोशल मीडिया पर विवाद बढ़ता चला गया और यह दुबे की हत्या तक पहुंच गया।  साकीनाका पुलिस ने मामले में बीजेपी युवा मोर्चा से जुड़े सुनील दुबे, उमेश सिंह और आकाश  शर्मा नाम के आरोपियों को हिरासत में लिया है।  मनोज दुबे के रिश्तेदारों का दावा है कि उनकी हत्या फेसबुक विवाद के चलते की गई। इलाके के पुलिस उपायुक्त नवीनचंद्र रेड्डी ने बताया कि मामले की छानबीन चल रही है। कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। फिलहाल हत्या की वजह साफ नही है।
 

 

मुंबई कांग्रेस ने की आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग

 

 

खबरें और भी हैं...