दैनिक भास्कर हिंदी: ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत की छलांग पर बोले पीएम- वर्ल्ड बैंक के इतिहास में ऐसा पहली बार

October 24th, 2019

हाईलाइट

  • पीएम मोदी ने वाराणसी के भाजपा कार्यकर्ताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया
  • इसके लिए क्षेत्र में शामिल सभी पांच विधानसभा क्षेत्रों में एलईडी स्क्रीन लगाई गई थी
  • पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा, सुरक्षाबलों को दें दिवाली की शुभकामनाएं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी के भाजपा कार्यकर्ताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। इसके लिए क्षेत्र में शामिल सभी पांच विधानसभा क्षेत्रों में एलईडी स्क्रीन लगाई गई थी। पीएम मोदी ने इस दौरान कार्यकर्ताओं से कहा कि बॉर्डर पर हमारी रक्षा करने वालों को भी दिवाली की शुभकामनाएं दें। पीएम ने कहा, आज ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत ने फिर से लंबी छलांग लगाई है। भारत जैसा बड़ा देश लगातार तीन बार प्रगति करता रहे, ऐसा वर्ल्ड बैंक के इतिहास में पहली बार हुआ है, ऐसा मुझे बताया गया है।

पीएम ने कहा, 'आज जब हम अपनों के बीच दिवाली मना रहे हैं तब उन लाखों वीर बेटे-बेटियों और उनके परिवारों को भी शुभ कामनाएं देना हमारा कर्तव्य बनाता है। अपनी खुशियों के बीच हमें उन सबका स्मरण करना चाहिए जो हमारे लिए जीते हैं, जूझते हैं। चाहे सेना का जवान हों, अर्धसैनिक बल हों, पुलिस के जवान हों, एनडीआरएफ के जवान हों या छोटे-छोटे कर्मचारी हों, इन सभी का योगदान हमारी खुशियों को चार गुना कर देता है। इन्हीं के कारण हम त्योहार मना पाते हैं।'

पीएम ने कहा, हमने विशेष तौर पर काम करते हुए सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने का अभियान चलाया है। अब सबको ध्यान आ रहा है कि प्लास्टिक के कारण हमारे आस-पास कितना बड़ा संकट पैदा हुआ है। अब देशवासियों ने सिंगल यूज प्लास्टिक से देश को मुक्त करने की ठान ली है। हमने इस काम को बहुत आगे बढ़ाना है। हमारे आस पास जो कूड़ा कचरा होता है, उसकी भी हमें चिंता करनी है।

पीएम ने कहा, 'आप भाजपा कार्यकर्ता विकास की अनेक परियोजनाओं को जिस तरह वाराणसी में जमीन पर उतारने में मदद कर रहे हैं, वो भी मेरे लिए बहुत संतोष और गर्व का विषय है। काशी में हो रहे परिवर्तन का लाभ केवल वाराणसी को ही नहीं बल्कि आसपास के क्षेत्रों को भी हो रहा है। वाराणसी में जिस तरह गंगा घाटों और सड़कों पर सफाई और लाइटिंग का कार्य हुआ है, उसने वहां आने वाले पर्यटकों का मन मोह लिया है। पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है। काशी में हो रहे परिवर्तन का लाभ काशी के साथ-साथ आस पास के क्षेत्रों को भी हो रहा है।

पीएम ने कहा 'मंदिर सिर्फ भगवान की पूजा के स्थल ही नहीं होते, बल्कि वह हमारी आस्था के केंद्र होते हैं, हमारे भक्ति भाव के सेंटर होते हैं। चाहे काशी विश्वनाथ का मंदिर हो या कोई अन्य मंदिर, यहां आकर हर किसी के मन में पॉजिटिविटी का संचार होता है। काशी की गलियों का अपना अलग ही महत्व है। ये गलियां काशी की आन-बान-शान हैं। लेकिन पहले इन गलियों के कारण बाबा भोलेनाथ के दर्शन में परेशानी होती थी। मां गंगा के दर्शन में भी कुछ रुकावट होती थी।

पीएम ने कहा, केंद्र सरकार की जो सामाजिक सुरक्षा वाली स्कीमें हैं उनके बारे में हमें लोगों को जागरुक करना चाहिए। हमें तय करना चाहिए हम रोज ऐसे 5 परिवारों को मिलें, जिन्हें हम योजना की जानकारियां पहुंचा सकें। हमें तय करना होगा कि केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे।

खबरें और भी हैं...