comScore

प्रियंका का योगी सरकार पर हमला, कहा सरकार, प्रशासन और पुलिस ने प्रदेश में अराजकता फैलाई


हाईलाइट

  • ‘मेरी सुरक्षा का सवाल बहुत छोटा सवाल है, इस पर चर्चा की जरूरत नहीं है’
  • सलमान खुर्शीद ने कहा- हम दस्तावेजों के आधार पर हाईकोर्ट में जाएंगे

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार दोपहर लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मेरी सुरक्षा का सवाल बहुत छोटा सवाल है, इस पर चर्चा की जरूरत नहीं है। आज प्रदेश की जनता की सुरक्षा का सवाल है। मैं अपनी सुरक्षा का मुद्दा नहीं उठाऊंगी, क्योंकि यह फिजूल है। प्रदेश में सीएए के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस के रवैये को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पुलिस अराजकता फैला रही है। 

उन्होंने कहा कि धर्म विशेष के लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिजनौर में दो लड़कों की हत्या की गई। दूध लेने गए बच्चे को पुलिस ने गोली मारी। सुलेमान नाम के लड़के को पुलिस उठाकर ले गई। उसका शव मिला है। पुलिस ने सुलेमान के परिजनों को धमकाया कि अगर आवाज उठाई को गंभीर धाराओं में आरोप लगाकर केस दर्ज कर देंगे।

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि पूर्व आईपीएस को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दारापुरी को उनके घर से गिरफ्तार किया। प्रदर्शन कर रहे बच्चों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। PHD कर रहे कई छात्रों को पुलिस ने दबोचा। हजारों लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। उन्होंने कहा कि हमारे प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने सीएम योगी पर भी हमला किया। उन्होंने कहा कि सीएम भगवा वस्त्र धारण किए हुए हैं। भगवा उनका निजी नहीं देश की परंपरा है। भगवा हिंदू धर्म का चिन्ह है। हमारे धर्म में हिंसा की कोई जगह नहीं है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि पहली बार किसी सीएम ने बदला लेने की बात कही है। आरोप साबित हुए बिना संपत्ति जब्त न हो। जज की निगरानी में जांच कराई जाए। सीएए संविधान के खिलाफ है। सीएए के जरिए नागरिकों को परेशान करने की साजिश है। गरीब-मजदूर दस्तावेज कैसे दिखाएगा।

इस दौरान कांग्रेस नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि लोगों का उत्पीड़न हुआ है। पुलिस ने लोगों का खुला उत्पीड़न किया। उन्होंने कहाकि हमारे वकील पीड़ित लोगों का सहयोग करेंगे। इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार एक्शन में हैं। सोमवार को उन्होंने लखनऊ स्थित कांग्रेस प्रदेश कार्यालय पहुंचकर कामकाज शुरू किया।बता दें कि प्रियंका गांधी 28 दिसंबर से यूपी में हैं और लगातार खबरों में बनी हुई हैं।

शनिवार को पुलिस द्वारा रोके जाने के बावजूद प्रियंका रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापुरी के परिजनों से मिलीं। जिन्हें पुलिस ने लखनऊ में हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। रविवार को प्रियंका ने पार्टी कार्यालय में कांग्रेस नेताओंं संग बैठक की और पार्टी के भविष्य को लेकर खाका खींचा। प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करेगी और जनता से जुड़े मुद्दे उठाएगी।

कमेंट करें
8Jri2