comScore

कांग्रेस के सत्ता में न रहने के बावजूद आरजीएफ को भारतीय कंपनियों से चंदे मिले

June 28th, 2020 21:30 IST
 कांग्रेस के सत्ता में न रहने के बावजूद आरजीएफ को भारतीय कंपनियों से चंदे मिले

हाईलाइट

  • कांग्रेस के सत्ता में न रहने के बावजूद आरजीएफ को भारतीय कंपनियों से चंदे मिले

नई दिल्ली, 28 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस के सत्ता से छह वर्ष दूर रहने के बावजूद, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता वाले राजीव गांधी फाउंडेशन को भारतीय व्यापार जगत के शीर्ष दिग्गजों से चंदे मिले हैं।

हाल के वर्षो में भारत के कई बड़े नामों ने आरजीएफ को चंदा दिया है। कांग्रेस और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन केंद्र में 2014 से सता से बाहर हैं।

हालांकि आरजीएफ को लेकर कॉरपोरेट डोनर की रुचि में कमी नहीं आई है और रिकार्ड में कई बड़े नाम शामिल हैं। 2018-19 के लिए जारी नवीनतम आरजीएफ वार्षिक रपट में जिन चंदादाताओं के नाम हैं, उनमें भारत फोर्ज, भारती फाउंडेशन, क्रिस्टी फ्रीजग्राम इंडस्ट्री, डीएसएम श्रीराम लिमिटेड, जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड, मैंक्स इंडिया फाउंडेशन, पैट्टन इंटरनेशनल लिमिटेड, पिरोजशा गोदरेज फाउंडेशन, टाटा स्टील लिमिटेड, टोरंट पॉवर लिमिटेड और टीवीएस मोटर कंपनी लिमिटेड शामिल है।

चंदा देने वालों की सूची में केवल नाम का विवरण है और चंदे में दी गई राशि के बारे में नहीं बताया गया है। वर्ष 2017-18 के लिए डोनर के रूप में टाटा स्टील लिमिटेड, डीसीएम श्रीराम लिमिटेड, मैक्स इंडिया फाउंडेशन, पिरोजशा गोदरोज फाउंडेशन, पेट्टोन इंटरनेशनल लिमिटेड, मुथूट फाइनेंस लिमिटेड, भारत फोर्ज लिमिटेड, टीवीएस मोटर कंपनी लिमिटेड, होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और क्रिस्टी फ्रीजग्राम इंडस्ट्री शामिल हैं।

2016-17 के लिए जिन डोनरों के नाम शामिल हैं, उनमें डीसीएम श्रीराम लिमिटेड, पेट्टोन इंटरनेशनल लिमिटेड, जीवीके एयरपोर्ट फाउंडेशन, भारत फोर्ज लिमिटेड, मैंक्स इंडिया फाउंडेशन, टाटा स्टील लिमिटेड, पिरोजशा गोदरेज फाउंडेशन, यस बैंक लिमिटेड, टीवीएस मोटर कंपनी लिमिटेड, होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूलटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और क्रिस्टी फ्रीजग्राम इंडस्ट्री शामिल हैं।

2015-16 के लिए, डोनर में भारत फोर्ज लिमिटेड, डीसीएम श्रीराम कंसोलिडेटेड लिमिटेड, जीवीके एयरपोर्ट फाउंडेशन, इंडसइंड बैंक, मैंक्स इंडिया फाउंडेशन, पेट्टोन इंटरनेशनल लिमिटेड, पिरोजशा गोदरेज फाउंडेशन, एसआरएसफ लिमिटेड और टाटा स्टील लिमिटेड शामिल हैं।

आरजीएफ ने 2013-15 के लिए वार्षिक रपट एकसाथ जारी किए, जिसमें डोनर के रूप में आदित्य विक्रम बिरला मेमोरियल ट्रस्ट, एपीजे ट्रस्ट, भारत फोर्ज लिमिटेड, बिल एंड मलिंडा गेट्स फाउंडेशन, क्रिस्टी फ्रीजग्राम इंडस्ट्री, डीसीएम श्रीराम कंसोलिडेटेड लिमिटेड, गेल इंडिया लिमिटेड, जीवीके एयरपोर्ट फाउंडेशन, इंडियन मेटल्स पब्लिक चैरिटेबल ट्रस्ट, महिंद्रा टू व्हीलर्स लिमिटेड, नवीराज एस्टेट्स प्रावेट लिमिटेड, ऑयल एंड नेचुलरल गैस कॉरपोरेशन, पटेल इंजीनियरिंग लिमिटेड, पेट्टोन इंटरनेशनल लिमिटेड, पिरोजशा गोदरेज फाउंडेशन, एसबीआई, सेल ,टाटा स्टील लिमिटेड शामिल हैं।

कमेंट करें
LBaHm